गैंगस्टर आनंदपाल के बारे में मिली ऐसी सूचना, सुनोगे तो उड़ जाएंगे होश

कुख्यात बदमाश अनिल उर्फ पांडिया से पुलिस की पूछताछ में कई बड़े और चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। सबसे बड़ा खुलासा यह हुआ कि पांडिया की गैंग भी आनंदपाल के साथ हो गई है। एक साल पहले जब आनंदपाल फरार हुआ था उस वक्त वह पांडिया को भी खुद के साथ फरार करवाने वाला था।

dinesh rathore

29 Apr 2017, 10:41 AM IST

कुख्यात बदमाश अनिल उर्फ पांडिया से पुलिस की पूछताछ में कई बड़े और चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। सबसे बड़ा खुलासा यह हुआ कि पांडिया की गैंग भी आनंदपाल के साथ हो गई है। एक साल पहले जब आनंदपाल फरार हुआ था उस वक्त वह पांडिया को भी खुद के साथ फरार करवाने वाला था। इसको लेकर पांडिया व आनंदपाल की अजमेर जेल में लंबी बातचीत भी हुई थी। जेल के कुछ अन्य कैदियों को भी यह बात पता थी। आनंदपाल गिरोह की महिला साथी अनुराग उर्फ अनुराधा भी लंबे समय से पांडिया के संपर्क में है। पुलिस ने इस पूरी पूछताछ को रिकॉर्ड में ले लिया है। कई विवादित जमीनों में भी इस गिरोह के शामिल होने की बात पुलिस के सामने आई है। पुलिस अब उन लोगों से  पूछताछ करेगी।





Read:

Video : सीकर में फिर आया ये गैंगस्टर, भारी मात्रा में यहां तैनात रही पुलिस, जानें क्या है मामला



पुलिस सूत्रों के मुताबिक आनंदपाल व अनिल उर्फ पांडिया दोनों एक साथ अजमेर की हाईसिक्योरिटी जेल में बंद थे। यहीं से दोनों के बीच बातचीत शुरू हुई थी। इसके बाद पांडिया व आनंदपाल की गैंग भी कई जगह एक साथ हो गई। खुद की फरारी की योजना बनाने के बाद आनंदपाल ने पांडिया को भी अपने साथ फरार होने के लिए कहा था। पांडिया उससे पहले भी सांचौर जेल तोड़कर फरार हो चुका था और वापस पकड़ा गया था। इस वजह से उसने फरार होने से मना कर दिया, लेकिन अपने खास गुर्गों के संपर्क आनंदपाल से करवा दिए और उसकी गैंग का सपोर्ट करने की बात कही।





Read:

इस कुख्यात अपराधी ने रची थी हत्या की साजिश, जानकर रह जाओगे हैरान



...रिणवां मारना चाहता है तो खुद ने बनाई योजना


पांडिया ने पुलिस पूछताछ में कबूला है कि उसके गुर्गों ने उसे बताया था कि अजय रिणवां की गैंग जमानत होने के बाद उसे मारने की योजना बना रही है। इसके लिए कुछ शूटर से भी संपर्क किया गया है। इसके बाद पांडिया ने भी अजय रिणवां को मारने की योजना बना ली और अपने गुर्गों को हथियार उपलब्ध करवाए।





Read:

राजू ठेहट प्रकरण में बड़ा फैसला, जो बन गया सीकर का पहला मामला


जमानत की तैयारी में अनुराधा


पुलिस पूछताछ में यह भी सामने आया है कि पांडिया अनुराधा के भी संपर्क में है। उसने पुलिस को बताया कि फिलहाल वह गैंग मंजीत सिंह की जमानत की तैयारी कर रही है। जिससे वह गिरोह को संभाल सके। कुछ महिलाओं से संबंध की बात भी पुलिस के सामने आई है। 





Read:

RAJU ठेहट की भावी MP की एफबी POST व स्पेशल गाना हो रहा VIRAL



आर्थिक तंगी से गुजर रही हैं गैंग


पांडिया ने कबूला है कि उसकी व आनंदपाल की गैंग फिलहाल आर्थिक तंगी से गुजर रही हैं। इसका मुख्य कारण पुलिस की सतर्कता है और लगातार गुर्गों का पकड़ा जाना है। फतेहपुर व सीकर की कई विवादित जमीनों में भी इस गैंग का हाथ सामने आया है। बिरजू ठेकेदार की हत्या के मामले में भी कई अहम खुलासे हुए हैं।




Read:

...तो सीकर में यहां छुपा था आनंदपाल, एसओजी व एटीएस ने दी दबिश 



डेढ़ साल से जेल में चला रहा है मोबाइल


पांडिया व आनंदपाल जैसे कुख्यात बदमाशों को सुरक्षा कारणों की वजह से सरकार ने हाईसिक्योरिटी जेल अजमेर में शिफ्ट करवाया था। इसके बाद भी वह करीब डेढ़ साल से वहां मोबाइल काम में ले रहा था और अपने गुर्गों के लगातार संपर्क में था। वह अपनी पूरी गैंग से संपर्क कर रहा था। आनंदपाल से भी लगातार संपर्क में रहा है। जेलकर्मियों से मिलीभगत से ही जेल में मोबाइल काम में लिए जा रहे हैं।


पांडिया को फिर से जेल में दाखिल करवा दिया गया है। उससे पूछताछ में कई अहम खुलासे हुए हैं। आनंदपाल से संपर्कों की बात भी सामने आई है। पूरी पूछताछ का फिलहाल खुलासा नहीं किया जा सकता है। जो भी नाम सामने आए हैं उन पर कार्रवाई होगी।  

 महावीर सिंह राठौड़, शहर कोतवाल फतेहपुर

Show More
dinesh rathore
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned