सुसाइड नोट में लिखा... मम्मी कसम, हमारे बीच कुछ गलत नहीं था, दुनिया के तानों से दुखी भाई-बहन ने किया सुसाइड

सुसाइड नोट में लिखा... मम्मी कसम, हमारे बीच कुछ गलत नहीं था, दुनिया के तानों से दुखी भाई-बहन ने किया सुसाइड

Naveen Parmuwal | Updated: 10 Jul 2019, 03:03:38 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

Girl Boy Committed To Suicide : सीकर जिले से बीएसटीसी कर रही युवती ने अपने प्रेमी के साथ ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली।

सीकर/बालोतरा.
Girl Boy Committed To Suicide : दुनिया के तानों से दुखी होकर रिश्ते के भाई-बहन ने ट्रेन के आगे कूदकर मौत को गले लगा लिया। घटनास्थल पर मिले सुसाइड नोट से जाहिर होता है कि तानों से दोनों इस कदर दुखी थे कि अंत में सुसाइड जैसा कदम उठाने को मजबूर हो गए। दोनों ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। घटना सोमवार देर रात की है। बालोतरा व खेड़ रेलवे स्टेशन के बाद सीइटीपी प्लांट के पास गुजरी जोधपुर-बाड़मेर पेसेंजर टे्रन के आगे युवक-युवती ने कूद कर आत्महत्या कर ली।

युवक व युवती की शिनाख्त सियागों की ढाणी, खुडासा बाड़मेर निवासी तगाराम पुत्र रिड़मलराम व लक्ष्मी पुत्री रामाराम के रूप में हुई है। जिनके बारे में मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया गया था। दोनों शवों का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंपने के बाद प्रकरण मृग का दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। इसके अलावा पुलिस को घटना स्थल से सुसाइड नोट लिखा हुआ मिला है। जिसके आधार पर पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।


सुसाइड नोट में लिखा... मम्मी कसम, हमारे बीच कुछ गलत नहीं था ( suicide note )

सुसाइड नोट में लिखा था.. हमारे दोनों के बीच भाई-बहन का रिश्ता था, पर क्या करें दुनिया ने एक तिनके का भारत बना दिया। यदि हमारे बीच ऐसा कुछ गलत होता तो हम टेंशन नहीं करते, पर दुनिया ने फालतू गलत ले लिया तो इस जिंदगी में जीने का कोई सार नहीं। मैं मम्मी की कसम खाकर कहती हूं कि हमारे बीच कुछ गलत था नहीं, पर कोई गलत लेता है तो लो हमें कोई फिक्र नहीं, हम दुनिया छोडकऱ जा रहे हैं। (एक कहावत भी है कि बिना विचारे जो करे सो पाछे पछताय, काम बिगाड़े आरोप और जग में होय हंसाय) आगे से ध्यान रखना प्रिय भाइयों कभी भी किसी पर झूठा आरोप लगाकर किसी की जिंदगी खत्म मत करना। भगवान सब-कुछ देख रहा है। कौन सही है और कौन गलत है वो तो भगवान देख रहा है लोग तो वैसे ही झूठा आरोप लगा रहे तो हम दोनों एक साथ अंतिम सांस लें। इस दुनिया से तो चले जाते आगे का आगे देखेंगे क्या होता है। जिंदगी में कभी किसी को दुख देकर अपनी खुशी का इंतजार मत करना और किसी को खुशी देकर अपने दुख का फ्रिक मत करना बहनों/भाइयों।


दो साल बड़ी थी युवती
पुलिस के अनुसार युवती सीकर जिले के एक बीएसटीसी द्वितीय वर्ष की छात्रा थी और यहीं रहकर पढ़ती थी। पुलिस पूछताछ में युवती के परिजनों ने बताया कि लक्ष्मी सीकर से ही बालोतरा आई हुई थी। युवती की उम्र 22 साल थी तो पुलिस के तहत मरने वाले युवक की उम्र उससे छोटी केवल 20 साल थी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned