Good news: मजदूरों को घर के पास ज्यादा मजदूरी में मिलेगा रोजगार

देशभर में जारी लॉकडाउन (Lockdwon In India) के बीच मनरेगा श्रमिकों के लिए राहत की खबर है।

By: Sachin

Updated: 31 Mar 2020, 10:54 AM IST

सीकर. देशभर में जारी लॉकडाउन (Lockdwon In India) के बीच मनरेगा श्रमिकों के लिए राहत की खबर है। लॉकडाउन के दौरान मनरेगा में निजी लाभ के स्वीकृत कार्यों पर श्रमिकों को रोजगार दिया जागएा। एक अप्रैल से राज्य में महात्मा गांधी नरेगा (mgnrega) श्रमिकों की दैनिक मजदूरी 199 से बढकऱ 220 रुपये कर दी जाएगी। केन्द्र सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा जारी निर्देशों के तहत लॉक डाउन के दौरान एक साथ एक ही स्थान पर चार से ज्यादा मजदूरों को नही लगाया जाकर प्रत्येक मजदूर को अलग-अलग स्थान पर काम दिया जाएगा। लॉकडाउन के दौरान प्रदेश के ज्यादातर जिलों में पिछले पखवाड़े में प्रतिदिन श्रमिकों की उपस्थिति 20 हजार से घटकर 700 से एक हजार के बीच आ गई थी। ऐसी स्थिति में जिला परिषद के सीईओ ने सभी अधिकारियों को जरूरतमंद परिवारों को रोजगार देने के निर्देश दिए है।

यूं करना होगा आवेदन


मनरेगा श्रमिकों को रोजगार के लिए ग्राम पंचायत कार्यालयों में आवेदन करना होगा। इसके बाद उनके घर के नजदीक रोजगार दिया जाएगा। कार्य के दौरान संक्रमण के खतरों की जानकारी दी जाकर लोगों को जागरूक करने के निर्देश भी जारी किए हैं।

मजदूर व किसान के संकट को दूर करने की मांग


इधर, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (CPIM) के राज्य सचिव अमरा राम ने लॉक डाउन में मजदूरों व किसानों के संकट को दूर करने की मांग राज्य सरकार से की है। अमरा राम ने कहा अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में भारी कमी हुई है। जो पिछले 22 सालों के दौरान न्यूनतम है, ऐसे में सरकार को पेट्रोल व डीजल के दामों में 15 से 20 रुपए प्रति लीटर कमी करनी चाहिए। मनरेगा मजदूरों के खातों में एक महीने की मनरेगा राशि डाली जाए। प्रवासी मजदूरों के रहने के लिए प्रवासी श्रमिक शिविर लगाकर उनके खाने पीने व चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग की है। साथ ही महामारी के हालातों को देखते हुए किसान सभा के प्रदेशाध्यक्ष पेमाराम ने आपदा राहत उपायों के तहत राज्य सरकार से सभी घरेलू व कृषि उपभोक्ताओं के दो महीने का बिजली बिल माफ करने का आदेश जारी करने की मांग रखी हैं। इधर, सीपीआई (एम) ने आम जनता से सरकारी गाइड लाइन का पालन करने व घरों में रहने की अपील की हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned