VIDEO. कोरोना वैक्सीनेशन के दौरान सरकारी अस्पताल की छत गिरी, 250 लोगों की जान पर मंडराया खतरा

(government hospital roof collapsed in sikar) राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे के झाड़ली गांव के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एक कमरे की छत अचानक भरभराकर गिर गई।

By: Sachin

Published: 06 Mar 2021, 06:05 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे के झाड़ली गांव के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एक कमरे की छत अचानक भरभराकर गिर गई। हादसे के दौरान पास के कमरे में ही कोरोना का वैक्सीनेशन चल रहा था। अस्पताल में करीब 250 से ज्यादा लोगों की भीड़ भी थी। इसी बीच कमरे की पट्टियां गिरना शुरू हो गई। जो एक के बाद एक गिरने से पूरी छत ढह गई। गनीमत से कमरा ज्यादा जर्जर होने की वजह से पहले से बंद किया हुआ था। जिसके चलते जन हानी बच गई। छत गिरने से मौके पर दहशत का माहौल हो गया। लोग चिल्लाकर भागते हुए अस्पताल के बाहर निकले। सूचना पर अजीतगढ़ नायब तहसीलदार जयपाल सिंह व गिरदावर मौके पर पहुंचे। घटना स्थल का मुआयना कर अपनी रिपोर्ट तैयार की। खास बात ये भी है कि अस्पताल भवन पूरी तरह जर्जर है। जिसके दो कमरों की छत पहले भी गिर चुकी है। इसके बावजूद शासन- प्रशासन भवन की मरम्मत के लिए गंभीर नहीं है।


40 साल पुराना है भवन, स्टोर रूम थ कमरा
जानकारी के अनुसार सेठ श्रीरामनिवास गोयल मेमोरियल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भवन 40 साल पुराना है। जिस कमरे की छत गिरी, उसे स्टोर रूम बनाया हुआ था। जिसमें चिकित्सा से संबंधित समान भी पड़ा था। छह कमरों का यह भवन भामाशाह के नाम पर ही है। जो काफी समय से जर्जर है। अस्पताल के दो कमरे पहले भी ढह चुके हैं। मरम्मत के लिए डाली गई आरसीसी से भी मिट्टी निकल रही है। हादसे को न्योता देते अस्पताल भवन की मरम्मत के लिए ग्रामीण सीएमएचओ से लेकर विधायकों तक को ज्ञापन दे चुके हैं। लेकिन, किसी भी स्तर पर इसे गंभीरता से नहीं लिया गया।

545 ने लगवाया था टीका, स्कूल के बच्चों को भी खतरा
घटना स्थल पर लोगों की मौजूदगी का अंदाजा वहां हुए वैक्सीनेशन से लगाया जा सकता है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शुक्रवार को 545 लोगों ने कोरोना का टीका लगवाया। जिनमें से ज्यादातर 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग थे। अस्पताल भवन की वजह से स्कूल के बच्चों को भी खतरा है। ग्रामीणों का कहना है कि अस्पताल के सामने ही राजकीय माध्यमिक स्कूल है। ऐसे में कई बच्चे अस्पताल भवन के पास से गुजरते हैं। अस्पताल के जर्जर भवन की वजह से उनकी जान को भी हर समय खतरा बना रहता है।

सरंपच मदन कंवर ने विधायक को लिखा पत्र
अस्पताल भवन की मरम्मत के लिए सरपंच मदन कंवर तथा अस्पताल स्टाफ ने फिर श्रीमाधोपुर विधायक दीपेन्द्र सिंह शेखावत को पत्र लिखा है। जिसमें लिखा है कि सात कमरों का अस्पताल पूरी तरह जर्जर हो चुका है। जो कभी भी बड़े हादसे का सबब बन सकते हैं। लिहाजा अस्पताल की जल्द से जल्द मरम्मत करवाई जाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned