जानिए GST से कितने तीखे हुए गर्मी के तेवर

जानिए GST से कितने तीखे हुए गर्मी के तेवर

vishwanath saini | Publish: Mar, 14 2018 11:41:48 AM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 11:44:43 AM (IST) Sikar, Rajasthan, India

फरवरी के आखिरी हफ्ते से सूरज के तेवर दिन प्रतिदिन सख्त होने लगे।

सीकर. शेखावाटी में जैसे ही गर्मी ने दस्तक देनी शुरू की शहरवासी व ग्रामीणों ने गर्मी से राहत के लिए खरीदारी करना भी शुरू कर दिया जिससे बाजारों में कूलर व पंखों की डिमांड बढ़ रही है इस जरूरत के अनुसार थौक व्यापारियों की दुकानों में उपकरणों की भरमार दिखाई दे रही है। लेकिन जीएसटी की वजह से सभी उपकरणों के दाम बढऩे पर बिक्री कम हो रही है। खरीददार उपकरणों की कीमत सुनकर दुबारा दुकानों में नही आ रहे है। फरवरी के आखिरी हफ्ते से सूरज के तेवर दिन प्रतिदिन सख्त होने लगे।


मार्च में 31 डिग्री तक पार पहुंच गया। आलम यह है कि सुबह 10 बजे बाद लोगों का धूप में निकलना कम हो गया है। लोगों को गर्मी से राहत दिलाने के लिए शहर में जगह-जगह शीतल पेय पदार्थों की दुकानें खुल गई हैं। शहर के प्रमुख मार्गों और बाजार में खुली लस्सी, कोल्ड ड्रिंक और गन्ने के रस की दुकानें लोगों को राहत पहुंचा रही हैं। शीतल पेय पदार्थ बेचने वालों ने बताया कि पिछले दस दिन से अचानक गर्मी बढ़ गई है। इसलिए कारोबार रफ्तार पकडऩे लगा है।


पिछले साल से गिरावट
दुकानदार मोहन गुप्ता ने बताया कि गर्मी तेज होने के साथ ही प्रतिदिन 15 से 20 पंखे व पांच कूलर बिक रहे हैं। एसी की बिक्री महीने के अंत से शुरू होती हैं। लेकिन इस बार गर्मी के चलते अभी से एसी बिकना शुरू हो गए हैं। उन्होंने बताया कि वह अपनी दुकान पर प्रतिदिन 3 से 4 एसी बेच रहे हैं।

 

summer news

यह है कारण
सरकार ने मार्केट में 2017 के बने उपकरणों पर बेन लगा दिया है। अब केवल 2018 में बने उपकरण ही मार्केट में मिलेंगे। साथ ही सरकार ने इस बार फाइव स्टार रेटिंग को बंद कर थ्री स्टार रेटिंग कर दी है। इसके अलावा थ्री स्टार रेटिंग को भी वन स्टार में बदल दिया है। इसका नतीजा है कि एसी पिछले साल 35 हजार रुपए तक बिका था। लेकिन इस बार 10 हजार रुपए तक की बढ़ोतरी के साथ मार्केट में 45 हजार रुपए तक एसी बिक रहे है।


जीएसटी का असर
उपकरण जीएसटी राशि में बढ़ोत्तरी
कूलर 18 प्रतिशत 1000 से 1500 रुपए तक
फ्रीज 28 प्रतिशत 1500 से 2000 रुपए तक
पंखे 18 प्रतिशत 40 से 50 रुपए तक
एसी 28 प्रतिशत 5000 रुपए तक

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned