घर-घर जाकर रोकेंगे डेंगू व मलेरिया के मच्छर

घर-घर जाकर रोकेंगे डेंगू व मलेरिया के मच्छर

Vishwanath Saini | Publish: Mar, 14 2018 11:33:33 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

एंटी लार्वा स्कावड बनाई



सीकर. प्रदेश में मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए एंटी स्कावड की टीम घर-घर जाएगी। स्वाइन फ्लू, डेंगू-मलेरिया-चिकनगुनिया व स्क्रब टाइफस से बचाव व मच्छरों की तादाद पर नियंत्रण के लिए चिक्त्सिा विभाग की ओर से तीन दिवसीय विशेष अभियान चलाएगा। अभियान के दौरान सरकारी व निजी नर्सिंग विद्यार्थी व चिकित्सा विभाग के कार्मिकों की एंटीलार्वा स्क्वाड बनाई जाएगी। इसके लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू गुप्ता ने निर्देश दिए हैं। सीएमएचओ अभियान के नोडल व डिप्टी सीएमएचओ हेल्थ सह नोडल अधिकारी होंगे। खण्ड स्तर पर ब्लॉक सीएमओ नोडल होंगे। गौरतलब है कि जयपुर जिले में इस प्रकार का अभियान चलाया गया था। इसके बाद इसे पूरे राज्य के लिए लागू किया गया है।
एंटी लार्वाल कार्रवाई
अभियान के दौरान जिले के सभी नर्सिंग विद्यार्थियों को लार्वा की पहचान, एंटीलार्वल गतिविधि व एंटी एडल्ट गतिविधि का प्रशिक्षण दिया जाएगा। सीएमएचओ डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि इसके बाद जिला से खण्ड स्तर तक नर्सिंग विद्यार्थियों के दल बनाए जाएंगे। ये दल वार्ड वार घर-घर भ्रमण करेंगे। जो घरों में व आस-पास मच्छर पैदा होने के मुख्य स्थानों के बारे में जागरूकता लाएंगे।
सोर्स रिडक्शन
डिप्टी सीएमएचओ डॉ. सी. पी. ओला ने बताया कि घरों में जाने से पहले कार्य स्थलों को टारगेट किया जाएगा।
सभी राजकीय व निजी अस्पतालों, विद्यालयों, सरकारी कार्यालयों व अन्य कार्य स्थलों पर एंटी लार्वल एक्टिविटी के जरिए सोर्स रिडक्शन की कार्यवाही स्वयं परिसर प्रभारियों के माध्यम से करवाई जाएगी।

प्रदेश में भयावह हालात
पिछले एक माह के दौरान मौसमी बीमारियों की चपेट में आने से कई लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद ही चिकित्सा विभाग ने यह कवायद शुरू की है।जयपुर जिले में इस प्रकार का अभियान चलाया गया था। कवायद पूरी करने के लिए लिए निजी एनजीओ की मदद ली जाएगी। सभी राजकीय व निजी अस्पतालों, विद्यालयों, सरकारी कार्यालयो को चिन्हित किया जाएगपा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned