सीकर में तेज बरसात के साथ गिरे ओले, एक की मौत

राजस्थान के सीकर जिले में मौसम रविवार को अचानक पलटी खा गया। जिले के कई इलाकों में आज तेज बरसात के साथ चने के आकार के ओले भी गिरे।

By: Sachin

Published: 15 Nov 2020, 09:23 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मौसम रविवार को अचानक पलटी खा गया। जिले के कई इलाकों में आज तेज बरसात के साथ चने के आकार के ओले भी गिरे। जबकि आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक की मौत हो गई। अचानक हुई बरसात से सर्द हवाओं के साथ ठंड का जोर बढ़ गया। तापमान में भी काफी कमी महसूस की जा रही है। जानकारी के अनुसार जिले में सबसे पहले मौसम में बदलाव श्रीमाधोपुर इलाके में हुआ। यहां अजीतगढ़ और रींगस में सबसे पहले दोपहर में अचानक बादल छाए। जिसके बाद करीब ढाई बजे दोनों जगह बूंदाबांदी शुरू हो गई। देखते- देखते तेज हवाओं के साथ बरसात ने भी रफ्तार पकड़ ली और चने के आकार के ओले भी झमाझम गिरने लगे। दोनों जगह करीब आधे घंटे तक यह सिलसिला जारी रहा। इसके बाद पलसाना, रानोली व दांतारामगढ़ में भी बादल झमाझम बरसे। जिसका असर जिलेभर में ठंड बढऩे के रूप में देखा गया। इससे पहले सुबह मौसम साफ रहा। सीकर शहर सहित ज्यादातर इलाकों में दिनभर धूप खिली रही। लेकिन, दोपहर बाद मौसम ने अचानक अपना रंग बदल लिया।

आकाशीय बिजली से युवक कि मौत

मावण्डा. नीमकाथाना के मावंडा क्षेत्र के ग्राम श्यामपूरा में आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक की मौत हो गई। मृतक 22 वर्षीय मनोज गुर्जर था। जो बकरी चराते समय बरसात होने पर खेत के एक पेड़ के नीचे खड़ा हो गया था। इसी दौरान आकाशीय बिजली गिरने से उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। सूचना पर पहुंचे परिजन मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए पाटन अस्पताल ले जाया गया। जहां से उन्हें जीलो सीएचसी भेज दिया गया। जानकारी के अनुसार मृतक के शव का पोस्टमार्टम सोमवार को होगा। मृतक की आर्थिक हालत को देखते हुए श्यामपूरा के पूर्व सरपंच महावीर गुर्जर ने परिजनों के लिए मुआवजे की मांग भी की है।

कहीं मुरझाए तो कहीं खिले चेहरे
मौसम में अचानक आए इस बदलाव से कहीं किसानों के चेहरे खिल गए तो कहीं चिंताएं बढ़ गई। जिले के जिन इलाकों में पकी फसलें खेतों में पड़ी थी। वहां बरसात के साथ ओले गिरने से फसलों को नुकसान हो गया। जबकि बुआई की तैयारी कर रहे किसानों के लिए यह बरसात अग्रिम संजीवनी साबित हुई है। किसानों का कहना है कि जमीन की नमी बढऩे से उन्हें फसल उत्पादन में फायदा होगा।


बढ़ी ठंड, गर्म कपड़ों में लिपटे लोग
दोपहर बाद बिगड़े मौसम का असर पूरे जिले में देखा जा रहा है। सीकर शहर सहित जिन इलाकों में बरसात नहीं हुई है, वहां भी शीतलहर ने आमजन को कंपा दिया है। शाम तक दिवाली की बधाई देने घर से बाहर आसानी से इधर- उधर जा रहे लोग भी अचानक गर्म कपड़ों में लदे नजर आने लगे। लोग जल्द ही रजाई में भी दुबकना शुरू हो गए।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned