खाने का विवाद होने पर होटल में की तोडफ़ोड़ व डकैती, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे के मूंडरु गांव में पिछले साल नवंबर में विश्वकर्मा होटल में तोडफ़ोड़ व डकैती बदला लेने के मकसद से की गई थी।

By: Sachin

Updated: 14 Oct 2021, 03:47 PM IST

सीकर/श्रीमाधोपुर. राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे के मूंडरु गांव में पिछले साल नवंबर में विश्वकर्मा होटल में तोडफ़ोड़ व डकैती बदला लेने के मकसद से की गई थी। श्रीमाधोपुर पुलिस ने मामले के मुख्य आरोपी श्रीमाधोपुर के वार्ड 10 स्थित मीणों का मोहल्ला निवासी सीताराम मीणा (26) पुत्र ग्यारसीलाल मीणा को गिरफ्तार कर लिया है। जिसने पूछताछ में बताया कि घटना से कुछ दिन पहले उसका होटल मालिक से खाने को लेकर विवाद हो गया था। जिसके बाद उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर होटल में घटना को अंजाम दिया था।

फरार साथी के पकड़े जाने पर हाथ आया मास्टर माइंड
श्रीमाधोपुर थानाधिकारी करण सिंह खंगारोत ने बताया कि नवंबर 2020 में मुंडरू के विश्वकर्मा होटल में घुसकर तोडफ़ोड़, मारपीट कर लैपटॉप, डीवीआर मशीन व रुपए लूटने का मामला सामने आया था। जिसमें रींगस के परसरामपुरा निवासी परिवादी महेश चंद जांगिड़ पुत्र चौथमल जांगिड़ ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। मामले में जयपुर के गोविंदगढ़ निवासी विकास यादव पुत्र गोविंद राम, राकेश कुमार यादव पुत्र मदन लाल यादव व सांवरमल पुत्र नंदराम बलाई को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था। जबकि गोविंदगढ़ का हरदरामपुरा गांव निवासी कमलेश पुत्र सूरजमल यादव (30) घटना के बाद से फरार चल रहा था। आरोपी ने जयपुर कोर्ट से 16 जून को अग्रिम जमानत करवाई ली। लेकिन कोर्ट आदेश की पालना में जमानत तस्दीक के लिए बार-बार सूचना के बावजूद भी वह उपस्थित नहीं होकर जांच अधिकारी उप निरीक्षक सुभाष चंद्र को भी अनुसंधान में सहयोग नहीं किया। ऐसे में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर 12 अक्टूबर को जयपुर से दस्तयाब कर गिरफ्तार किया गया। आरोपी कमलेश की पहचान के आधार पर घटना में शामिल पांच आरोपियों की पहचान के साथ मुख्य आरोपी सीताराम को भी उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। जिसने पूछताछ में होटल मालिक से विवाद होने पर अपने दोस्तों को बुलाकर वारदात को अंजाम देना कबूल कर लिया।

तबादला निरस्त करने के लिए विधायक शेखावत ने लिखा पत्र
श्रीमाधोपुर. शहीद शिवपाल राम जाट राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय डेरावाली कल्याणपुरा में प्रधानाध्यापिका शोभा निठारवाल के तबादले का विरोध गांव में लगातार जारी है। मामले में ग्रामीणों ने गुरुवार को भी स्कूल के बाहर विरोध प्रदर्शन करते हुए प्रधानाध्यापिका का तबादला निरस्त करने की मांग की। इधर, ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए श्रीमाधोपुर विधायक दीपेन्द्र सिंह शेखावत ने भी शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को पत्र लिखकर प्रधानाध्यापिका का तबादला रंजिश वश होना बताकर उसे निरस्त करने की मांग की है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned