पांच साल की मासूम को मेले से उठा लाए पति- पत्नी, रातभर रोने पर खुला राज

सीकर/रामगढ़ शेखावाटी. भाकरवासी गांव में एक दंपति द्वारा बाबा रामदेव के मेले से पांच वर्षीय बालिका को उठाकर सहनूसर ले जाने मामला सामने आया है।

By: Sachin

Published: 19 Sep 2021, 05:53 PM IST

सीकर/रामगढ़ शेखावाटी. भाकरवासी गांव में एक दंपति द्वारा बाबा रामदेव के मेले से पांच वर्षीय बालिका को उठाकर सहनूसर ले जाने मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने आरोपित सहनूसर निवासी दंपति को गिरफ्तार कर लिया। थानाधिकारी उमाशंकर ने बताया कि सहनुसर निवासी मीनू कंवर (33 ) व उसके पति ओकारसिंह (32) राजपूत को गिरफ्तार किया है। पुछताछ में मीनू कंवर ने कबूला कि वह अपने पति के साथ भाकरवासी मेला देखने गई थी। मेले से पालने के उदेश्य से बच्ची को अपने साथ सहनूसर आवास पर ले आई।

ग्राम रक्षक के सहयोग से किया बालिका को बरामद
पुलिस ने बताया कि बालिका के गुम हो जाने पर पुलिस ने ग्रामीण क्षेत्र की घटना होने से अपनी टीम के साथ ही ग्राम रक्षकों को भी सक्रिय किया। इस पर सहनूसर के ग्राम रक्षक व भाकरवासी के ग्राम रक्षक ने बच्ची के सहनूसर गांव के एक घर में होने की सूचना दी थी। इस पर पुलिस ने बालिका को गिरफ्तार कर दंपति को गिरफ्तार कर लिया।

रातभर रोती रही मासूम
रामदेव मेले से लाने के बाद मासूम आरोपियों के पास रात भर जोर जोर से रोती रही। जिससे आसपास के लोगों को भी संदेह हो गया। जिन्होंने भी इसकी इत्तेला पुलिस को दी।

चूड़ी खरीदते समय हो गई थी गायब
रामगढ़ सेठान थानाधिकारी उमाशंकर ने बताया कि भाकरवासी में रामदेव बाबा के मेले में पूनम कंवर अपने बच्चों के साथ मेला देखने गई थी। यहां एक चूड़ी की दुकान पर चूड़ी देखते समय ही मासूम लापता हो गई थी। इस पर परिजनों ने पुलिस थाने में बच्ची के लापता होने का मामला दर्ज कराया। पुलिस बच्ची की तलाश में थी कि इसी बीच सहनूसर में उसके होने की सूचना मिली। जिसके बाद पुलिस ने ओंकारसिंह पुत्र रेवत सिंह और उसकी पत्नी मीनू कंवर को गिरफ्तार कर लिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned