पति ने डायबिटीज में तोड़ा दम तो पत्नी ने गांव के ही अस्पताल में बनवा कर दिया वार्ड

Husband broke his diabetes and wife got her ward in the hospital

वार्ड कक्ष का विधायक ने किया उद्घाटन

By: Gaurav

Published: 01 Mar 2021, 07:27 PM IST

Husband broke his diabetes and wife got her ward in the hospital

सीकर. यह कहानी है सीकर जिले के अन्तिम छोर व हरियाणा सीमा पर बसे दलपतपुरा गांव की है जहां पत्नी ने अपने पति की याद में यहां के अस्पताल में वार्ड बनवाकर दिया। इसी गांव की निवासी मल्ली देवी के पति ओमप्रकाश की डायबिटीज से एक अक्टूबर को मृत्यु हो गई थी। मल्ली देवी की कोई सन्तान नहीं है, ऐसे में उसने अपने पति की स्मृति के लिए कुछ नया करने का फैसला लिया। अस्पताल में मरीजों के भर्ती होने के लिए वार्ड का अभाव था जिस पर मल्ली देवी ने बरामदे सहित 4 लाख रुपए की लागत से वार्ड बनवा दिया। रविवार को विधायक सुरेश मोदी ने वार्ड कक्ष का उद्घाटन किया।


यही नहीं इसी गांव के इस अस्पताल के निर्माण में भी एक महिला का ही उल्लेखनीय योगदान रहा है। दलपतपुरा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्वीकृत होने के बाद वहां भवन की व्यवस्था नहीं थी। ऐसे में गांव की एक महिला कोकली देवी भामाशाह बनकर सामने आई और अपने पति जाराराम की स्मृति में अपनी कृषि भूमि में से ना सिर्फ जमीन अस्पताल के नाम कर दी बल्कि छह कमरों का निर्माण करवा कर सरकार को सौंप दिया। सरकार ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का नाम कोकली देवी जाराराम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रख दिया।


ग्रामीण सजग, प्रशासन उदासीन
दलपतपुरा के ग्रामीण भले ही स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए भौतिक संसाधन उपलब्ध करवा रहे हों पर प्रशासन पूरी तरह से अस्पताल की व्यवस्थाओं के प्रति उदासीन नजर आ रहा है। पिछले छह माह से यहां कोई चिकित्सक नहीं है । अस्पताल की व्यवस्थाएं मेल नर्स के भरोसे चल रही हैं। सरपंच बलराम गुर्जर ने बताया कि यहां कार्यरत चिकित्सक को छह माह पूर्व डेपुटेशन पर दूसरी जगह लगा दिया गया है। रविवार को उद्घाटन करने पहुंचे विधायक सुरेश मोदी को जब इस बात का पता लगा तो उन्होंने तुरंत बीसीएमएचओ को फोन कर यहां चिकित्सक की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned