scriptInnocent trapped in 50 feet deep pit for six hours, eating biscuits, t | बोरवेल में मासूम: 50 फीट गहरे गड्ढे में छह घंटे से फंसा मासूम, बिस्किट खा रहा, कर रहा बातें | Patrika News

बोरवेल में मासूम: 50 फीट गहरे गड्ढे में छह घंटे से फंसा मासूम, बिस्किट खा रहा, कर रहा बातें

child fell in borewell. राजस्थान के सीकर जिले के चारण का बास की बिजारणियां की ढाणी में बोरवेल में गिरे चार वर्षीय मासूम रविन्द्र को छह घंटे बाद भी बाहर नहीं निकाला जा सका है।

सीकर

Updated: February 24, 2022 10:52:02 pm

सीकर/खाटूश्यामजी. राजस्थान के सीकर जिले के चारण का बास की बिजारणियां की ढाणी में बोरवेल में गिरे चार वर्षीय मासूम रविन्द्र को छह घंटे बाद भी बाहर नहीं निकाला जा सका है। एसडीआरएफ के बाद अब अलवर से एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंच गई है। जो मासूम को बाहर निकालने के अभियान में जुट गई है। इधर मौके पर दांतारामगढ़ विधायक चौधरी वीरेन्द्र सिंह, कलक्टर अविचल चतुर्वेदी, एडीएम धारा सिंह मीणा, एसपी कुंवर राष्ट्रदीप, एसडीएम राजेश मीणा सहित कई प्रशासनिक अधिकारी व स्थानीय जनप्रतिनिधी भी मौके पर जुटे हैं। अच्छी बात ये है कि बोरवेल में फंसा रविन्द्र अब भी हलचल कर रहा है। परिजनों द्वारा आवाज लगाने पर वह उनसे बातचीत भी कर रहा है।

बोरवेल में मासूम: 50 फीट गहरे गड्ढे में छह घंटे से फंसा मासूम, बिस्किट खा रहा, कर रहा बातें
बोरवेल में मासूम: 50 फीट गहरे गड्ढे में छह घंटे से फंसा मासूम, बिस्किट खा रहा, कर रहा बातें

दो योजनाओं पर काम
रविन्द्र को बोरवेल से बाहर निकालने के लिए बचाव दल दो योजनाओं पर काम कर रहा है। पहली योजना कुछ दूरी से मिट्टी खोदते हुए बोरवेल तक ढलाननूमा रास्ता बनाकर मासूम तक पहुंचने का है। दूसरा बोरवेल के नजदीक ही उसकी गहराई तक की कुई खोदकर सुरंग बनाकर रविन्द्र को बाहर निकालने की है। दोनों के लिए ही काम युद्ध स्तर पर हो रहा है।

चार बजे गिरा था मासूम
गौरतलब है कि खाटूश्यामजी के नजदीकी गांव चारणका बास की बिजारणियां की ढाणी में गुरुवार शाम चार बजे चार वर्षीय रविन्द्र खेलते समय बोरवेल में गिर गया था। लिखमा का बास सरपंच सागर मल ने बताया कि बिजारणियां की ढाणी में लक्ष्मणराम जाट के खेत में बोरवेल की खुदाई हुई थी। जिसकी गुरुवार को पाइप निकालने के बाद भराई का काम चल रहा था। करीब 400 फीट के बोरवेल को 350 फीट से ज्यादा भर भी दिया गया था। करीब 40 से 50 फीट की भराई बाकी थी कि इसी बीच परिजन खाना खाने चले गए। पीछे से करीब चार बजे रविन्द्र खेलते- खेलते वहां पहुंच गया। जो बोरवेल के गड्ढे में गिर गया। घटना की जानकारी पर पुलिस व प्रशासन की टीम के साथ सिविल डिफेंस की टीम मौके पर पहुंची। बाद में एसडीआरएफ व एनडीआरएफ को भी बुलाया गया। जो रविन्द्र के बचाव अभियान में जुटी हुई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.