ये खबर कर सकती है किसानों को परेशान

एक सप्ताह तक मौसम में रहेगा उलटफेर

By: Vinod Chauhan

Published: 10 Apr 2019, 05:40 PM IST

मौसम विभाग का दावा: रहेगा आंधी, बिजली गर्जना और बवंडर का जोर
सीकर. हवाओं का कम दवाब का क्षेत्र बनने से अगले सप्ताह में शेखावाटी सहित प्रदेश के पश्चिमी जिलों के मौसम में उलटफेर रहेगा। मौसम विभाग का दावा है कि अगले सात दिन तक प्रभावित क्षेत्रों में आंधी, बिजली गर्जना और बवंडर का जोर रहेगा। इस दौरान अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट कम ही रहेगी लेकिन गर्म हवाओं का जोर जारी रहेगा।
हालांकि हवाओं की गति में कमी आएगी। इसके अलावा बदलते मौसम के पीछे बार-बार पश्चिमी विक्षोभ के कारण भी तापमान में बदलाव आ रहा है। सीकर में सुबह से तेज गर्मी रही। दिन में धूप ने तेवर दिखाए जिसका असर शाम तक नजर आया। फतेहपुर में सोमवार को अधिकतम 38.8 डिग्री और न्यूनतम तापमान 19.4 डिग्री सेल्सियस रहा।
चक्रवात है कारण
मौसम विज्ञानियों ने बताया कि जमीन से ऊपर कम दवाब का क्षेत्र बन गया है। इससे नीचे की हवा हल्की होकर ऊपर बने खाली स्थान को भर रही है। इस कारण कंडक्टिव एक्टिविटी (अचानक बादल छाना, धूलभरी आंधी आना, गरज-चमक और बूंदाबांदी) हो रही हैं। हवा की तेजी से 35 से 55 किलोमीटर की रफ्तार से आंधी और बंवडर जैसी स्थिति बन रही है। इसके अलावा अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में भी ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसके 10 दिन तक और बने रहने की संभावना है।
19 से 21 डिग्री रहेगा रात का तापमान
आंधी के साथ बारिश होने से हवा में नमी की मात्रा बढ़ रही है। इस कारण तापमान में उतार चढ़ाव दर्ज किया जा रहा है। शेखवाटी की आबोहवा के अनुसार गर्मी के सीजन में जब-जब अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी हुई है कम दवाब का क्षेत्र बना है और नमी बढ़ी है। विभाग के अनुमान के अनुसार अगले सात दिनों के दौरान शेखावाटी में रात का तापमान 19 से 21 डिग्री और दिन का तापमान 39 से 42 डिग्री के आसपास रहने का अनुमान है।
लाखों का फटका
अप्रेल माह की शुरूआत से मौसम की मार से किसानों की फसलों को लाखों का नुकसान हो गया है। किसान शिशुपाल सिंह खरबास ने बताया कि इस समय रबी की 60 फीसदी फसलों की कटाई हो चुकी है। फसलों की कटाई होने के कारण पशुचारा भी नहीं उठाया है। सबसे अधिक नुकसान चना में हुआ है। इस समय गेहूं व चना की लावणी चल रही है। आमतौर पर किसान सुबह कटाई करता और शाम को फसलों को खलिहान में एकत्र करते हैं, लेकिन रविवार शाम आए अंधड के कारण किसान फसलों को ढक भी नहीं पाए। इससे नुकसान बढ़ गया है। किसान इस नुकसान से उभरने की कोशिश कर रहे हैं।

Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned