झाडू बंद आन्दोलन : विधायक ने रसूख दिखाते हुए बेटे की दुकान के सामने कराई सफाई , जबकि पूरे शहर में जगह-जगह लगे कचरे के ढ़ेर

झाडू बंद आन्दोलन : शहर में दो दिन से कचरा नहीं उठने के कारण बीमारी फैलने का भी खतरा बना हुआ है।

By: vishwanath saini

Updated: 07 Jun 2018, 02:23 PM IST

 

सीकर. सफाई कर्मचारियों के आंदोलन के कारण शहर में जगह-जगह कचरे के ढ़ेर लग गए। लेकिन शहरी सरकार को इससे कोई सरोकार नहीं है। बुधवार को विधायक रतन जलधारी ने रसूख दिखाते हुए सफाई के लिए सेफ्टी टैंक के कर्मचारियों को बुला लिया। कर्मचारियों ने विधायक के बेटे की दुकान के आगे सफाई की। विधायक के बेटे ने पहले तो अपनी मिठाई की दुकान के सामने सफाई कराई। इसके बाद गणेश मंदिर क्षेत्र में कर्मचारियों को गणेश मंदिर मार्ग में लगा दिया। इधर, विधायक रतन जलधारी का कहना है कि बुधवार को गणेश मंदिर में काफी भीड़ रहती है। यहां कचरे के ढ़ेरों को हटाने के लिए नगर परिषद आयुक्त को फोन किया था। इधर, शहर में पिछले दो दिन से सफाई नहीं होने के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सफाई कर्मचारियों का कहना है कि सरकार के मांग नहीं मानने तक आंदोलन जारी रहेगा।

 

राजस्थान में गर्मी ने किसानों के बचा लिए करोड़ों रुपए, खबर पढ़कर आपको भी नहीं होगा यकीन

 

बीमारी फै लने का खतरा
शहर में कूड़े के ढेरों के बीच आमजन परेशान हैं। सडक़ों पर कड़ी धूप के साथ पॉलीथिन की थैलियां उडऩे से वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शहर में दो दिन से कचरा नहीं उठने के कारण बीमारी फैलने का भी खतरा बना हुआ है।

 

ऐसे अपराधियों के पीछे सालभर दौड़ती रही पुलिस, जब हकीकत आई सामने तो पुलिस के भी उड़ गए होश

 

 

 

jhadoo band

मांग नहीं मानने तक आंदोलन जारी रहेगा
अखिल राजस्थान सफाई मजदूर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुरेश कुमार का कहना है कि हड़ताल के बीच किसी भी कर्मचारी ने सफाई नहीं की है। नई सफाई कर्मचारी भर्ती में वाल्मिकी समाज को प्राथमिकता देने की मांग को लेकर कर्मचारियों ने कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर जिला कलक्टर के नाम ज्ञापन दिया। जिलाध्यक्ष सुरेश कुमार झाझोटर ने बताया कि सरकार के मांग नहीं मानने तक हड़ताल जारी रहेगी।

vishwanath saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned