महिला जिसे एक साल से जानती थी उसके साथ होटल में आई और फिर जो हुआ उससे तीन जिले चौंक गए

महिला जिसे एक साल से जानती थी उसके साथ होटल में आई और फिर जो हुआ उससे तीन जिले चौंक गए

vishwanath saini | Publish: Jun, 14 2018 07:45:01 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

महिला झुंझुनूं की व आरोपित सीकर का और शव का अंतिम संस्कार हनुमानगढ़ में हुआ। ऐसे मामले के खुलासे तीन जिलों के लोग चौंक गए।

सीकर.

झुंझुनूं जिले के गुढग़ौडज़ी इलाके के जाखल गांव की महिला की हत्या एक माह पहले झुंझुनूं शहर के एक होटल में की गई थी। अपराधी बाद में शव को गाड़ी में डालकर हनुमानगढ़ ले गए। वहां शव को नहर में फैंककर वापस आ गए। महिला झुंझुनूं की व आरोपित सीकर का और शव का अंतिम संस्कार हनुमानगढ़ में हुआ। ऐसे मामले के खुलासे तीन जिलों के लोग चौंक गए।

झुंझुनूं पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात में उसके साथ दो अन्य युवक भी थे। अभी तक हत्या का तरीका और कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है।

वारदात की शिकार महिला आरेापित युवक से एक वर्ष से अधिक समय से सम्पर्क में थी। ऐसे में पुलिस अवैध संबंधों से जोड़कर भी मामले को देख रही है। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार आरोपित सीकर जिले के दादिया थाना इलाके के जेरठी गांव का बलबीर सांसी है।

अब तक की जांच में सामने आया है कि वारदात की शिकार जाखल गांव निवासी सुवादेवी (45) की सुबह बलबीर सांसी से फोन पर बात हुई थी। इस दिन सुवादेवी को अपने पोते से मिलने के लिए झुंझुनूं आना था। सुवादेवी बलबीर की गाड़ी में बैठकर झुंझुनूं आई थी।

उलझी हुई है पोस्टमार्टम रिपोर्ट

सुवादेवी का शव हनुमानगढ़ क्षेत्र में नहर में पड़ा मिला था। पहचान नहीं होने पर पुलिस ने शव को लावारिश मानते हुए दाह संस्कार कर दिया। गुढ़ागौडज़ी पुलिस को इसके बाद ही मामले की जानकारी मिल पाई।

ऐसे में शव का पोस्टमार्टम हनुमानगढ़ पुलिस ने ही करवाया और सामान्य मौत का मामला मानते हुए मृग दर्ज कर ली। सूत्रों के अनुसार पुलिस को मिली पोस्टमार्टम रिपोर्ट मेें हत्या का पूरी तरह खुलासा नहीं हुआ है।

कहानी में है कई पेच

सुवादेवी की हत्या की कहानी में कई पेच है। पुलिस ने बुधवार को झुंझुनूं के होटल में भी जांच की, लेकिन वहां पर भी पुलिस को किसी तरह के सबूत नहीं मिले। होटल में सीसीटीवी भी नहीं लगे हुए है। हालांकि होटल स्टाफ ने बलबीर और सुवादेवी के ही होटल में आने की पुष्टि की है। लेकिन बलबीर सीकर जिले के जेरठी गांव का रहने वाला है।

पुलिस बलबीर की कहानी पर इसलिए विश्वास नहीं कर रही है कि सुवादेवी की यहां होटल में अगर तबीयत खराब भी हुई है तो कुछ ही क्षण में उसके दोस्त यहां कैसे आ गए। दूसरी बात यह है कि सुवादेवी की तबीयत खराब होने पर वे उसे किसी अस्पताल क्यों नहीं लेकर गए। ऐसे में पुलिस का मानना है कि सुवादेवी की बलबीर और उसके दोस्तों ने योजनाबद्ध तरीके से हत्या की है।

टूट नहीं रहा है बलबीर

सुवादेवी और बलबीर के साथ गाड़ी में झुंझुनूं आने तक की कहानी तो रास्ते में लगे सीसीटीवी फुटेज से साफ हो गई। लेकिन सुवादेवी की हत्या क्यों और कैसे की गई। इस पर से अभी पर्दा नहीं उठ पाया है। गिरफ्तार आरोपित बलबीर भी पुलिस की पूछताछ में टूट नहीं रहा है। बलबीर ने करीब एक वर्ष से सुवादेवी के सम्पर्क में होने की बात तो बताई है, लेकिन हत्या की वहज को लेकर उसने अभी तक मुंह नहीं खोला है।

बलबीर का कहना है कि होटल में सुवादेवी की तबीयत खराब हो गई। इसके बाद वह उसे नीचे लाया। अपने दो साथियों को बुलाया। इसके बाद उसे गाड़ी में बैठाया तो उसकी मौत हो चुकी थी। इसके बाद योजना बनाकर वे शव को गाड़ी में हनुमानगढ़ ले गए। वहां पर ले जाकर नहर में फैंक दिया। है।

इनका कहना है...

महिला की हत्या के मामले में एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य दो की तलाश तारी है। हत्या के कारणों का पूरी तरह खुलासा जांच के बाद ही हो सकेगा। महिला के पिछले एक वर्ष से आरोपित के संपर्क में होने की बात सामने आई है।
-अशोक चौधरी, थानाधिकारी, गुढ़ागौडज़ी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned