खाटू मेला: मेले की लौटी मुस्कान, रींगस से खाटू तक चल पड़ा भक्तों का रैला

-पांचवे दिन पचास हजार श्रद्धालुओं ने किए श्याम बाबा के दर्शन

By: Ashish Joshi

Published: 22 Mar 2021, 10:09 AM IST

प्रमोद स्वामी
सीकर/खाटूश्यामजी. हाथों में निशान मुख पर श्याम जयकारें, रंग गुलाल उड़ाते नाचते गाते भक्तों का कारवां चल पड़ा। यह नजारा था रींगस-खाटू मार्ग का। बाबा श्याम के फाल्गुनी मेले के पांचवे दिन खाटू नगरी श्रद्धालुओं से सरोबार हो गई। रविवार को करीब 50 हजार श्रद्धालुओं ने अपने आराध्य देव व कुलदेवता शीश केे दानी श्याम सरकार के दरबार में माथा टेका। श्री श्याम मंदिर कमेटी की ओर से ड्राई फ्रूट और सुगंधित फूलों से सजाए गए श्याम सरकार के दर्शन कर भक्तों ने पुण्य कमाया। मेले में विगत चार दिन से सूनी पड़ी खाटू नगरी श्याम रंग में सरोबार हो गई। दिनभर चले पदयात्रा में ऐसे नन्हें बच्चे भी शामिल थे, जो गर्मी की परवाह किए बिना मंदिर की ओर बढ़े चले आ रहे थे। गर्मी के चलते रास्ते में भक्त मंडलों की ओर से लगे शिविरों में पदयात्रियों के लिए चाय-पानी, विश्राम सहित चिकित्सा की व्यवस्था की गई थी। शिविरों में पदयात्रियों के पैरो में पड़े छालों की सेवादारों ने मरहम पट्टी की। इधर बाजारों में भी खोई हुई रौनक लौट आने से व्यापारियो के चेहरों पर फिर से मुस्कान लौट आई।
-------------------------
ड्राई फ्रूट से सजे श्याम सरकार
फाल्गुनी मेले की सप्तमी के दिन श्याम सरकार का ड्राई फ्रूट के साथ गुलाबी, लाल, नीला व पीला गुलाब, मोगरा, गेंदा, हजारा, तुलसी, सहित इंग्लिश फूलों से मनोहारी श्रंगार किया था। हर कोई भक्त श्रंगार को अपने नयनों में बसा रहा था।
---------------------------
पेट के बल रोलिंग कर दो दिन में पहुंचा खाटू
फरीदाबाद का राजकुमार राजपूत रींगस से पेट के बल रोलिंग कर कठिन यात्रा कर दो दिनों में रींगस से खाटू पहुंचा। इस यात्रा में उसकी पत्नी अनिता व अन्य परिजन भी शामिल थे। राजकुमार ने बताया कि बाबा श्याम से की गई कामना को लेकर यह यात्रा की।
--------------------------
प्रशासन के रींगस रोड पर पानी के दावे फेल
गत मेला बैठकों में प्रशासन की ओर से गर्मी को देखते हुए रींगस से खाटू मार्ग पर पानी की व्यवस्था करवाने के बड़े-बड़े दावे किए। रविवार को रींगस-खाटू मार्ग पर करीब तीन चार किमी की दूरी पर श्रद्धालुओं के लिए लगाए गए शिविर और दुकानदारों सहित ग्रामीणों की ओर से पानी की व्यवस्था नजर आई। मगर प्रशासन की ओर से कोई व्यवस्था नहीं दिखी।
----------------------------
बिना जांच वालों ने अपनाए दूसरे मार्ग
मेले में जिन भक्तों के पास कोविड नेगेटिव जांच रिपोर्ट नहीं थी, जांच पॉइंट से लौटा रहे ऐसे श्रद्धालुओं ने अन्य रास्तों से जुगाड़ कर मंदिर तक पहुंचने में सफल हो गए। मेला शुरू होने से लेकर यह सिलसिला जारी है।
-----------------------------
कलक्टर ने देखी मेला व्यवस्थाएं
रविवार को खाटू पहुंचे कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने कोविड रिपोर्ट जांच पॉइंट, चिकित्सा शिविर सहित अन्य मेला व्यवस्थाओं का जायजा लिया। कलक्टर ने मौके पर दिखी खामियों को दूर करने के निर्देश दिए। कलक्टर ने स्वयं श्रद्धालुओं की कोविड जांच रिपोर्ट देखकर हाथ पर मुहर लगाकर दर्शन के लिए भेजा। उनके साथ एडीएम धारा सिंह मीणा, प्रशासनिक सुधार अधिकारी राकेश , पालिका ईओ कमलेश कुमार मीना आदि अधिकारी शामिल रहे।

----------------------------
सेवा से ही श्याम नजर आते है
रींगस रोड पर लांपुवा में स्थित स्मार्ट गोशाला की ओर से चिकित्सा शिविर लगाया गया। जिसमें संचालक छाजूराम अग्रवाल ने पैदल आ रहे भक्तों की मरहम पट्टी कर सेवा की। वहीं 24 घंटे भंडारा फतेहाबाद की ओर से भी मेले में सेवा दे रहे स्वयंसेवकों की भोजन व्यवस्था की गई। इनके अलावा रींगस से खाटू तक अनेक शिविर लगे हुए थे। भक्तों ने कहा सेवा में ही बाबा श्याम नजर आते है।

Ashish Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned