VIDEO. किसान महापंचायत में योगेन्द्र यादव,राकेश टिकैत,अमराराम सहित कई नेता करेंगे शिरकत, एक लाख किसान पहुंचने का दावा

केंद्र सरकार के तीन कृषि बिलों (three contentious farm laws) के खिलाफ सीकर में किसानों की महापंचायत (Sikar Kisan Mahapanchayat) मंगलवार को आयोजित होगी।

By: Sachin

Published: 22 Feb 2021, 07:06 PM IST

सीकर. केंद्र सरकार के तीन कृषि बिलों (three contentious farm laws) के खिलाफ सीकर में किसानों की महापंचायत (Sikar Kisan Mahapanchayat) मंगलवार को आयोजित होगी। जयपुर रोड स्थित कृषि उपज मंडी में महापंचायत सुबह 11 बजे शुरू होगी। जिसमें योगेन्द्र यादव, राकेश टिकैत, अमराराम, युद्धवीर सिंह सहित कई राष्ट्रीय नेता शिरकत करेंगे। यहां सभा के साथ आंदोलन की आगे की रणनीति पर चर्चा होगी। किसान संयुक्त मोर्चा ने महापंचायत में एक लाख किसानों के पहुंचने का दावा किया है। इससे पहले महापंचायत को लेकर किसान संयुक्त मोर्चा तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। जनसंपर्क अभियान के साथ किसानों के मंडी तक पहुंचने की व्यवस्थाओं तक पर पूरा ध्यान केंद्रित किया गया है।


800 गांवों के किसान होंगे शामिल
किसान महापंचायत में मंगलवार को एक लाख किसानों के पहुंचने का दावा किया जा रहा है। रविवार को कृषि उपज मंडी में संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारियों की प्रेसवार्ता में बताया गया कि जिले के 800 गांवों के किसान मंडी में आयोजित महापंचायत में पहुंचेंगे। जो केंद्र सरकार के कृषि बिलों के खिलाफ अपनी एकता व बुलंद आवाज की पेशगी करेंगे।

गायक हुड्डा भी होंगे शरीक
किसान महापंचायत में हरियाणा के गायक अजय हुड्डा भी आएंगे। जो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर विवादित गाना बनाकर सुर्खियों में आ चुके हैं। किसान महापंचायत की तैयारियों को लेकर मंडी में दो प्लेटफार्म पर टेंट लगाया गया है। पूर्व विधायक पेमाराम ने बताया कि किसान महापंचायत में सभी जन संगठन और किसान संगठन जुटेंगे।

दूजोद टोल 17वे दिन भी फ्री
टोल प्लाजा दूजोद के क्षेत्र में सीकर में 23 फरवरी को होने वाली किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में जनसंपर्क किया। पडाव स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि केंद्र की सरकार की मनमर्जी के खिलाफ आक्रोश बढ़ रहा है। देश में किसान नहीं तो कुछ भी नहीं। ऐसे में किसान हित में कृषि कानूनों को सरकार को वापस लेना ही होगा।


छह फरवरी से जारी है आंदोलन
किसान नेता किशन पारीक ने बताया कि संयुक्त मोर्चा के बैनर तले छह फरवरी से आंदोलन किया जा रहा है। जिसके तहत जिले के 12 टोलबूथ पर किसानों का पड़ाव जारी है। किसान आंदोलन की तैयारियों को लेकर जिले के आठ सौ गांवों में जनजागृति अभियान चलाया गया। जिसके कारण जिले के किसान संगठनों सहित जनसंगठनों ने महापंचायत में भाग लेने की सहमति दी। जिसके तहत 23 फरवरी को इन गांवों से किसान अपने वाहन के जरिए कृषि उपज मंडी पहुंचेंगे। प्रत्येक टोलबूथ के अधीन गांव के कुछ किसान पड़ाव स्थल पर रहेंगे। पडाव स्थल के नेता किसान महापंचायत में भाग लेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned