VIDEO: केंद्रीय मंत्री के खिलाफ किसानों ने किया मटका फोड़ प्रदर्शन

केंन्द्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी के किसानों को लेकर दिए बयान के विरोध में किसानों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर मटका फोड़ प्रदर्शन किया। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले किसानों ने इस दौरान नारेबाजी के बीच केंद्र सरकार का पुतला फूंका।

By: Sachin

Published: 23 Jul 2021, 08:24 PM IST

सीकर. केंन्द्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी के किसानों को लेकर दिए बयान के विरोध में किसानों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर मटका फोड़ प्रदर्शन किया। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले किसानों ने इस दौरान नारेबाजी के बीच केंद्र सरकार का पुतला फूंका। मंत्री मीनाक्षी लेखी को हटाने की मांग को लेकर सरकार के नाम कलक्टर को ज्ञापन भी सौंपा। भारतीय किसान यूनियन टिकैत के जिलाध्यक्ष दिनेश जाखड़ ने कहा कि मोदी सरकार के मंत्री किसानों के विरोध में लगातार बयानबाजी कर अपने पाप का घड़ा भर रहे हैं। जिसके प्रतीक के रूप में घड़ा फोड़कर सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया गया है। उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों, महंगाई व पेगेसस जासूसी कांड में सरकार की जन व किसान विरोधी नीतियां सामने आ चुकी है। मोदी सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। प्रदर्शन में हाथ में बैनर व झंडा लिए कई कार्यकर्ता शामिल हुए।


आरएएस भर्ती विवाद को लेकर किया प्रदर्शन
लक्ष्मणगढ़. आरएएस भर्ती परीक्षा विवाद को लेकर शुक्रवार को भाजपा खुड़ी, जाजोद व बलारां मण्डलों की ओर से कस्बे में प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुराने बस स्टैण्ड पर राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस मौके पर बलारां मंडल अध्यक्ष अमित शर्मा, खुड़ी मंडल अध्यक्ष प्यारेलाल कटारिया, जाजोद मंडल अध्यक्ष बाबूलाल दुल्लड़, युवा मोर्चा नेता मनोज बाटड़, युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष ललित पंवार, जिला परिषद सदस्य रामचंद्र बगडिय़ा, पंचायत समिति सदस्य अमृत ख्यालिया, रतन गोदारा, जय प्रकाश सरावगी, नरेश मंडीवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत, मनफूल वर्मा, जय शंकर पुजारी आदि मौजूद थे।


इधर, डोटासरा के समर्थन में उतरे संगठन
आरएएस भर्ती परीक्षा को लेकर उपजे विवाद तथा शिक्षामंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा पर लगाए गए आरोपों के बीच विभिन्न संगठनों ने डोटासरा का खुलकर समर्थन भी किया है। राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) की शुक्रवार को हुई वर्चुअल बैठक में वक्ताओं ने कहा कि डोटासरा ने शिक्षा विभाग में कई नवाचार करते हुए ऐतिहासिक कार्य किए है। जिससे बौखलाए कुछ लोग उनके खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगाकर उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रहे है। बैठक में उपशाखा अध्यक्ष मनफूल बगडिय़ा, मंत्री रामावतार फगेडिय़ा, रवि मुद्गल, राजकुमार शर्मा, ओमप्रकाश ढाका, नत्थूसिंह बेनीवाल, रमजान अली, मुस्तफा, महेश वर्मा सहित अनेक पदाधिकारी व सदस्य शामिल थे। इसी प्रकार अंबेडकर युवा संगठन की सज्जन हापास की अध्यक्षता में हुई बैठक में वक्ताओं ने डोटासरा को दलितों व गरीबों का हितैषी बताते हुए कहा कि दलित व किसान वर्ग के बच्चे आरएएस बने, यह सामंती सोच वाले लोगों को पसंद नहीं है, इसीलिए डोटासरा पर झूठे आरोप लगाए जा रहे है। बैठक में मुकेश वर्मा, नरेश किरोड़ीवाल, भंवरलाल कांवलिया, प्रवीण मलोवा सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned