राजस्थान में चाकूबाजी : जो भी आया सामने उसी के मार दिए चाकू, 3 जनों की जिंदगी जोखिम में, भरे बाजार में मच गया हड़कम्प

knife war in sikar rajasthan : कोर्ट परिसर में राजीनामे के दौरान आपसी कहासुनी का विवाद दूसरे दिन चाकूबाजी में बदल गया।

By: vishwanath saini

Published: 24 May 2018, 11:10 PM IST

सीकर.

कोर्ट परिसर में राजीनामे के दौरान आपसी कहासुनी का विवाद दूसरे दिन चाकूबाजी में बदल गया। घटना में पिता-बेटों सहित तीन लोग घायल हुए हैं। जिनमें दो को एसके अस्पताल में भर्ती कराया गया है और हमला करने वाले दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

SIKAR : 'बचके रहना रे बाबा' इस महिला से, व्यापारी का ही इसने यूं बना लिया गंदा वीडियो

 


सीकर पुलिस के अनुसार वार्ड संख्या 49 के अब्दुल जब्बार ने रिपोर्ट दी है कि गुरुवार की दोपहर वह अपने लड़के मोहम्मद हुसैन व सद्दाम के साथ बकरामंडी में बकरे बेच रहा था। आरोप है कि उनके रिश्तेदार इरफान, इस्माइल व शोयल हाथों में चाकू लेकर आए और आते ही तीनों पर जानलेवा हमला कर दिया। हो-हल्ला सुनकर मंडी में काम कर रहे अन्य लोगों ने बीच-बचाव कर उन्हें छुड़वाया।

 

 

READ : बेटा-बेटी के साथ कुएं में कूदी मां, इन तीन मौतों की वजह है बहुत खौफनाक

 

हमले में चाकू से तीनों के हाथ, पेट व छाती पर चोट लगी है। जिसमें हुसैन व सद्दाम को एसके अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है और जब्बार को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। अब्दुल जब्बार का कहना है कि इस्माइल की लड़की मेरे लड़के सद्दाम के ब्याही हुई है। इस्माइल ने इनके खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज करा रखा है। इसको लेकर बुधवार को कोर्ट परिसर में राजीनामे के दौरान कहासुनी होने से रंजिश रखकर इन लोगों ने गुरुवार को हमला कर दिया।

मचा हड़कंप

बकरा मंडी में अचानक हुई चाकूबाजी की घटना से बाकी व्यापारियों में भी अफरा-तफरी मच गई। बकरे बेच रहे और खरीद रहे लोग सकते में आ गए। इसके बाद कइयों ने हिम्मत दिखाकर बीच-बचाव कर मामले को शांत करवाया।


शांतिभंग में गिरफ्तार

नोर्थ पुलिस चौकी प्रभारी शिवराज सिंह ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है। हमले के आरोपी इस्माइल व इरफान को शांतिभंग में गिरफ्तार कर लिया गया है।

vishwanath saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned