लव जिहाद! बदला स्वरूप, अब युवक बदल रहे हैं धर्म

-आर्य समाज मंदिर में धर्म परिवर्तन कर दूसरे धर्म की युवती से शादी के बढ़ रहे हैं मामले -सामाजिक संगठन हुए सक्रिय, पुलिस के अधिकारियों से मामले की तह तक पहुंचने की मांग

By: Devendra

Updated: 20 Jul 2020, 05:31 PM IST

सीकर. यह लव जिहाद का बदला स्वरूप है, या गहराई में कुछ और। यह तो पुलिस की जांच में साफ होगा। लेकिन दूसरे धर्म की युवतियों को प्रेम जाल में फांसने वाले मुस्लिम युवक चंद मिनट में धर्म परिवर्तन कर आर्य समाज के मंदिर में शादी कर रहे हैं। सीकर जिले में पिछले एक वर्ष में इस तरह के पांच मामले सामने आ चुके हैं। ताजा मामला सीकर के ग्रामीण क्षेत्र का है। घर से लापता युवती को पुलिस शनिवार को बरामद कर थाने लाई तो यह खुलाशा हुआ। पुलिस ने युवती को परिजनों के साथ भेज दिया है। वहीं आरोपी युवक का अभी कोई पता नहीं चल पाया है। वहीं सीकर जिले में यह नया मामला सामने आने के बाद कई सामाजिक संगठन भी सक्रिय हो गए हैं। मामले की तह तक पहुंचने के लिए संगठनों के लोग सोमवार के पुलिस के अधिकारियों से मिलेंगे। गाजियाबाद के आर्य समाज मंदिर में शादी का दावा मूलत: नागौर जिले की रहने वाली यह युवती 11 जुलाई की रात अपनी भुवा के घर से गायब हो गई थी। परिवार के लोगों ने युवती की तलाश की। बाद में जानकारी मिलने पर सोयबखान उर्फ प्रवीण अन्य के खिलाफ थाने में मामला दर्ज करवाया। इस पर पुलिस ने युवती व आरोपियों की तलाश की। सूत्रों के अनुसार युवती ने नागौर जिले के एक थाने में पेश होकर बताया कि उन्होंने आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली है। इस सूचना पर सीकर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवती को बरामद कर लिया। युवती के बयान दर्ज करने के बाद उसे उपखंड अधिकारी के यहां पेश किया, जहां पर वह अपनी मर्जी से परिजनों के साथ चली गई। एक वर्ष में सामने आए पांच मामले जाति, नाम व धर्म परिवर्तन कर ***** युवतियों को फंसाने और शादी रचाने के पिछले एक वर्ष में पांच मामले सामने आ चुके हैं। खास बात यह है कि इन मामलों में मुस्लिम युवकों ने अपना धर्म परिवर्तन कर ***** बनकर इन युवतियों से शादी की है। पुलिस ने युवतियों की रिपोर्ट पर मामलें दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन अभी तक यह साबित नहीं हो पाया कि इनमें लव जिहाद से जुड़ा कोई गिरोह शामिल है या नहीं।
-आर्य समाज मंदिर में धर्म परिवर्तन कर दूसरे धर्म की युवती से शादी के बढ़ रहे हैं मामले -सामाजिक संगठन हुए सक्रिय, पुलिस के अधिकारियों से मामले की तह तक पहुंचने की मांग सीकर. यह लव जिहाद का बदला स्वरूप है, या गहराई में कुछ और। यह तो पुलिस की जांच में साफ होगा। लेकिन दूसरे धर्म की युवतियों को प्रेम जाल में फांसने वाले मुस्लिम युवक चंद मिनट में धर्म परिवर्तन कर आर्य समाज के मंदिर में शादी कर रहे हैं। सीकर जिले में पिछले एक वर्ष में इस तरह के पांच मामले सामने आ चुके हैं। ताजा मामला सीकर के ग्रामीण क्षेत्र का है। घर से लापता युवती को पुलिस शनिवार को बरामद कर थाने लाई तो यह खुलाशा हुआ। पुलिस ने युवती को परिजनों के साथ भेज दिया है। वहीं आरोपी युवक का अभी कोई पता नहीं चल पाया है। वहीं सीकर जिले में यह नया मामला सामने आने के बाद कई सामाजिक संगठन भी सक्रिय हो गए हैं। मामले की तह तक पहुंचने के लिए संगठनों के लोग सोमवार के पुलिस के अधिकारियों से मिलेंगे। गाजियाबाद के आर्य समाज मंदिर में शादी का दावा मूलत: नागौर जिले की रहने वाली यह युवती 11 जुलाई की रात अपनी भुवा के घर से गायब हो गई थी। परिवार के लोगों ने युवती की तलाश की। बाद में जानकारी मिलने पर सोयबखान उर्फ प्रवीण अन्य के खिलाफ थाने में मामला दर्ज करवाया। इस पर पुलिस ने युवती व आरोपियों की तलाश की। सूत्रों के अनुसार युवती ने नागौर जिले के एक थाने में पेश होकर बताया कि उन्होंने आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली है। इस सूचना पर सीकर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवती को बरामद कर लिया। युवती के बयान दर्ज करने के बाद उसे उपखंड अधिकारी के यहां पेश किया, जहां पर वह अपनी मर्जी से परिजनों के साथ चली गई। एक वर्ष में सामने आए पांच मामले जाति, नाम व धर्म परिवर्तन कर ***** युवतियों को फंसाने और शादी रचाने के पिछले एक वर्ष में पांच मामले सामने आ चुके हैं। खास बात यह है कि इन मामलों में मुस्लिम युवकों ने अपना धर्म परिवर्तन कर ***** बनकर इन युवतियों से शादी की है। पुलिस ने युवतियों की रिपोर्ट पर मामलें दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन अभी तक यह साबित नहीं हो पाया कि इनमें लव जिहाद से जुड़ा कोई गिरोह शामिल है या नहीं।

Devendra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned