ढाई घंटे के फेरे, वरमाला-तोरण, डिनर और विदा भी...सब तीन घंटे में! वर-वधू पक्ष बोले आदत नहीं है ऐसी शादी की लेकिन गाइडलाइन भी जरूरी

marriage ceremony in 3 hours...

By: Gaurav

Published: 24 Apr 2021, 08:35 PM IST

marriage ceremony in 3 hours...
-कोरोना गाइडलाइन के तहत तीन घंटे में करना होगा शादी समारोह
-बारात का स्वागत, फोटोग्राफी-वीडियोग्राफी, नेक-दस्तूर इन सब पर हो रही माथापच्ची!
सीकर. राजस्थान में कोरोना (corona) के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने शादी-समारोह करने के लिए छूट तो दे दी लेकिन तीन घंटे में शादी समारोह पूरा करने के आदेश के बाद वर-वधू इसको लेकर माथापच्ची करने में लगे हैं।


लडक़े-लडक़ी वाले शादी समारोह के आयोजन को लेकर पूरा प्लान बदल रहे हैं। किस कार्यक्रम को शामिल करना है किसे शॉर्ट करना है इसके लिए शादी वाले घरों में सलाह-मशविरा किया जा रहा है।


शादी के घर में सिर्फ एक ही चर्चा!
दरअसल प्रशासन ने केवल 3 घंटे का ही समय शादी-समारोह को सम्पन्न करने का दिया है। लोगों का कहना है कि हिंदू रीति-रिवाज में 2 से 2.30 घंटे फेरे और एक से डेढ़ घंटे का सिंहाला, तोरण और वरमाला जैसी रस्मों में ही पूरा जो जाता है। फोटोग्राफी और खाना आदि कार्यक्रम में समय जो लगे वो अलग है।


‘...और मेरे लिए’
बारात का स्वागत, वरमाला, पूजा-अर्चना, नेक दस्तूर, फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी के लिए सभी के समय निकाला जा रहा है। घर के बुजुर्गों का कहना है कि शादी शॉर्ट में की जाए तो युवा और बच्चे सभी प्रोग्राम के बारे में रूचि से पूछ रहे हैं।


सटासट् खाने होंगे फुलके
कोरोना की नई गाइडलाइन के मुताबिक दिए गए तीन घंटे के समय में आयोजकों को अधिकतम 50 लोगों को भोजन भी कराना है। वर-वधू और सभी रिश्तेदारों को चंद मिनटों में भोजन भी खत्म करना होगा।


चट शादी पट विदा
वर-वधू वालों का कहना है कि इतना ही नहीं शादी की मुख्य रस्म के साथ ही आखिर में विदा की तैयारी भी करना पड़ेगी। जिससे तीन घंटे में पूरा कार्यक्रम सम्पन्न हो सके। नहीं तो उन पर भारी जुर्माना भी लग सकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned