इस गांव में बस चालक ने की ये गलती तो कट गए चालान

एक निजी बस के संबंधित दस्तावेज नहीं होने पर बस चौकी में खड़ी करवा दी गई।

By: vishwanath saini

Published: 07 Jun 2018, 01:40 PM IST

खाचरियावास . कस्बे में कई दिनों से निजी बसें गांव के अंदर से नहीं आकर बाईपास चले जाने से परेशान ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन कर परिवहन विभाग के आरटीओ को इस संबंध में शिकायत दर्ज करवाई थी। समस्या को लेकर बार-बार खबरें प्रकाशित होने के बाद बुधवार सुबह परिवहन विभाग रींगस के इंस्पेक्टर ने कुली तिराहा व उमाड़ा प्याऊ सडक़ पर बाइपास से जाने वाली आधा दर्जन बसों का चालान किया। साथ ही गांव के मुख्य स्टैंड पर जाने की चालकों को हिदायत दी। एक निजी बस के संबंधित दस्तावेज नहीं होने पर बस चौकी में खड़ी करवा दी गई। गौरतलब है कि रोजाना सुबह 7 से लेकर 10 बजे तक चलने वाली दर्जनों निजी बसें गांव के बाईपास से होकर गुजरती थी जिससे ग्रामीणों को दो किलोमीटर पैदल चलकर टिलाधाम बाइपास पर इन बसों में बैठना पड़ता था।

 

इधर युवाओं द्वारा व्हाट्एप ग्रुप बनाकर बाइपास जाने वाली बसों की निगरानी का कार्य भी शुरू किया है। जो बस गांव के अंदर नहीं आएगी उसके अगले दिन ग्रुप के माध्यम से सूचना देकर ग्रामीणों द्वारा उसी समय बस को रोककर संबंधित विभाग से कार्रवाई भी करवाई जाएगी। परिवहन विभाग के इंस्पेक्टर ने कहा कि जो बसे गांव के अंदर नहीं आएगी उन पर यह कार्रवाई जारी रहेगी।

 

सफाई कर्मचारियों ने किया विरोध प्रदर्शन
रामगढ़ शेखावाटी. सफाई कर्मचारियों की नवीन भर्ती में वाल्मिकी समाज के नागरिकों को ही भर्ती करने के समर्थन में पालिका सफाई कर्मचारियों की हड़ताल बुधवार का दूसरे दिन भी जारी रही। सफाई कर्मचारियों ने पुरानी पालिका कार्यालय के समक्ष धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया। इस अवसर पर अखिल राजस्थान सफाई मजूदर कांग्रेस स्थानीय इकाई अध्यक्ष गिरधारीलाल, ताराचंद, धनश्याम, संजय सहित सफाई कर्मचारी मौजूद थे।

खेल-खेल में 9 साल के बच्चे के अपने आप लग गई फांसी, सबके सामने तड़प-तड़प कर तोड़ा दम

 

ट्रक-ट्रैक्टर ट्राली में भिड़ंत से हुआ खौफनाक हादसा, देखने वालों की कांप उठी रूह

 

vishwanath saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned