विदेश से MBBS करने के लिए नहीं देनी होगी NEET, अब मेडिकल कॉलेजों में यूं मिलेगा प्रवेश

विदेश से डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाले युवाओं के लिए अच्छी खबर है। अब एक बार नीट पास करने पर तीन साल तक वे विदेश के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश ले सकते हैं।

By: Vinod Chauhan

Published: 24 Mar 2019, 11:17 AM IST

अजय शर्मा, सीकर.

विदेश से डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाले युवाओं के लिए अच्छी खबर है। अब एक बार नीट पास करने पर तीन साल तक वे विदेश के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश ले सकते हैं। अब युवाओं को तीन साल तक हर बार नीट देने की आवश्यकता नहीं रहेगी। इस संबंध में भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद के महासचिव डॉ. आरके वत्स ने अधिसूचना जारी की है। इससे पहले उसी साल दाखिला लेने की छूट रहती थी। लगातार विद्यार्थियों की मांग पर भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद ने अधिनियम में बदलाव किया है। इससे पहले विदेश में डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए नीट परीक्षा अनिवार्य नहीं थी, लेकिन लगातार विदेश जाने वाले विद्यार्थियों की संख्या में इजाफा होने पर यह बदलाव हुआ था। हालांकि दिल्ली उच्च न्यायालय ने कुछ विद्यार्थियों को इस साल बिना नीट के विदेश जाने की छूट दी थी। वहीं दूसरी तरफ देश के मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए नीट एक साल ही लागू रहेगी। यहां के मेडिकल कॉलेजों में दाखिला नहीं मिलने पर दोबारा नीट परीक्षा देनी होगी।

Show More
Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned