राजस्थान विधानसभा की तर्ज पर प्रदेश का सबसे अनूठा है सीकर नगर परिषद का नया भवन

राजस्थान विधानसभा की तर्ज पर प्रदेश का सबसे अनूठा है सीकर नगर परिषद का नया भवन
राजस्थान विधानसभा की तर्ज पर प्रदेश का सबसे अनूठा है सीकर नगर परिषद का नया भवन

Vinod Singh Chouhan | Updated: 11 Oct 2019, 11:23:38 AM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

शहरी सरकार का 12 करोड़ की लागत से बना नया भवन ( New Building of Sikar Municipal Council ) प्रदेश में अनूठा है। विधानसभा ( Rajasthan Assembly ) की तर्ज पर बने 45 कमरों के दो मंजिला भवन में सभी दस्तावेजी कार्य ऑन लाइन होंगे।

सीकर.

शहरी सरकार का 12 करोड़ की लागत से बना नया भवन ( New Building of Sikar Municipal Council ) प्रदेश में अनूठा है। विधानसभा ( Rajasthan Assembly ) की तर्ज पर बने 45 कमरों के दो मंजिला भवन में सभी दस्तावेजी कार्य ऑन लाइन होंगे। आम आदमी को प्रत्येक दस्तावेज और फाइल की जानकारी परिषद के पोर्टल ( Sikar Council Portal ) पर मिलेगी। मोबाइल नंबर डालने के साथ ही आवेदन की स्थिति सामने आ जाएंगी। शनिवार को नए भवन के उद्घाटन के साथ ही यह पोर्टल शुरू हो जाएगा। पोर्टल पर आम आदमी परिषद के कार्य से संबंधित शिकायत भी कर सकेगा। खास बात यह है कि इस भवन की स्वीकृति भी कांग्रेस राज में मिली थी। भाजपा राज में यह प्रोजेक्ट ठंडे बस्ते में जाने के साथ सियासत का केन्द्र बना रहा। अब राज्य में कांग्रेस की सरकार आते ही काम पूरा होते ही कांग्रेसी नेता ही फीटा काटेंगे।


धारीवाल तय, गहलोत की स्वीकृति का इंतजार
श्री कल्याण भवन, नगर परिषद का उद्घाटन 12 अम्टूबर को दोपहर एक बजे स्वायत शासन मंत्री शांति धारीवाल करेंगे। विधायक राजेन्द्र पारीक ने बताया कि उद्घाटन कार्यक्रम के लिए मुख्यमंत्री से भी सीकर आने का आग्रह किया गया है, लेकिन व्यस्त कार्यक्रम के चलते अभी तक स्वीकृति नहीं मिल पाई है। भवन के साथ ही जमनालाल बजाज ऑडिटोरियम, नानी स्थित महात्मागांधी लेक एवं ईको पार्क, नेहरू म्यूजिकल फाउंडेशन का शिलान्यास, 8 एमएलडी की एसटीपी और अंबेडकर भवन का लोकार्पण का कार्यक्रम भी तय किया जा रहा है।


भाजपा राज में तैयारी, लेकिन नहीं लग सकी मुहर
नगर परिषद के नए सभा भवन के उद्घाटन को लेकर कई बार योजना बनी। लेकिन कार्यक्रम पर अंतिम मुहर नहीं लग सकी। भाजपा राज के आखिरी साल में सरकार ने पूरी तैयारी कर ली थी। लेकिन बोर्ड पर कांग्रेस का कब्जा होने की वजह से भाजपा इसमें सफल नहीं हो सकी। दूसरा पक्ष यह भी था कि अधूरे प्रोजेक्ट का उद्घाटन होने से जनता में संदेश भी गलत जाता, ऐसे में भाजपा ने इसे टाल दिया। वहीं कांग्रेस ने प्रदेश में सत्ता आते ही नगर परिषद के उद्घाटन की तैयारी की। लेकिन एक बार कार्यक्रम टलने के बाद अब हरी झंडी मिली है। अब कांग्रेस नेता सीएम को बुलाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं। लेकिन मुख्यमंत्री के पहले से कार्यक्रम तय होने की वजह से सीकर दौरा तय नहीं हो पा रहा है। इसके अलावा अटके हुए प्रोजेक्टों पर अब मुहर लगने से जनता को राहत मिलने की आस जगी है।


नगर परिषद बोर्ड की आखिरी बैठक 14 को
नगर परिषद बोर्ड की अंतिम बजट बैठक 14 अक्टूबर को दिन में 11 बजे परिषद सभागार में होगी। आयुक्त ने गुरुवार को बैठक का एजेंडा जारी कर दिया है। सभापति जीवण खां की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में विभिन्न राजकीय विभागों को भूमि आवंटन के लिए प्राप्त आवेदन पत्रों, बजट से अधिक खर्च का वर्ष वार अनुमोदन पर विचार एवं निर्णय किया जाएगा। इसके अलावा खांचा भूमि के प्राप्त प्रकरणों एवं डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण के लिए अधिकृत फर्म को 50 वार्ड के स्थान पर 13 वार्ड का कार्य दिए जाने पर निर्णय किया जाएगा।


आम आदमी का सीधा प्रवेश नहीं
आम आदमी भवन के अंदर आयुक्त या सभापति की अनुमति से ही जा सकेगा। सभापति, आयुक्त और सचिव के कक्ष के आगे जाने के लिए पास की व्यवस्था रहेगी। पास बनने के बाद ही आगे जाया जा सकेगा। इसके अलावा परिषद का नया भवन पूरी तरह से सीसीटीवी कैमरों से युक्त रहेगा। भवन में 160 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।


आवेदन जमा करवाने के लिए बनाई 14 विंडो
जन्म, मृत्यु प्रमाण-पत्र, भवन निर्माण स्वीकृति, पट्टा समेत सभी कार्यो की फाइल जमा करवाने के लिए नगर परिषद के नए भवन में 14 विंडो बनाई गई है। सभापति जीवण खां ने बताया कि यहां पर फाइल जमा करवाने के साथ ही मोबाइल नंबर पर ऑटीपी आएगा। बाद में व्यक्ति अपने मोबाइल नंबर से अपने फाइल के कार्य की स्थिति जान सकेगा। इसके अलावा कार्य पूरा होने की सूचना भी परिषद की ओर उसे उसके मोबाइल पर दी जाएगी। परिषद के जेईएन प्रवीण कुमार ने बताया कि प्रमाण-पत्र के लिए आवेदक को बार कॉड की रसीद मिलेगी। जिसके आधार पर प्रमाण-पत्र का प्रिंट निकाला जा सकेगा। यह व्यवस्था फिलहाल नए भवन में ही की गई है। बाद में शहर में इसके लिए कियोस्क बनाए जाएंगे।


नगर परिषद का नया भवन शनिवार को शहवासियों को समर्पित होगा। इसके लिए तैयारी पूरी कर ली है। नया भवन विधानसभा की तर्ज पर बनाया गया है। इसमें शेखावाटी की हवेलियों का भी लुक आएगा। यह भवन बनने से जनता को काफी राहत मिलगी। -जीवण खां, सभापति, नगर परिषद सीकर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned