अब बेबाक कटाएं एयर टिकट

खाडी देश जाने के दस्तावेज दिखाकर करवा सकेंगे कोविड जांच
एसके अस्पताल के चिकित्सकों सहित स्टॉफ को दिए निर्देश
गाइडलाइन आने तक मिलेगी निशुल्क सुविधा

By: Puran

Published: 20 Jul 2020, 10:09 AM IST

सीकर। वैश्विक महामारी कोरोना के कारण लॉकडाउन में फंसे सीकर जिले के कामगार के लिए राहत की खबर है। खाडी देश में जून की रोटी कमाने के लिए जाने वाले कामगारों की कोविड जांच अब जिला मुख्यालय के एसके अस्पताल में संबंधित देश जाने के दस्तावेज दिखाने के बाद निशुल्क हो सकेगी। एसके अस्पताल में खाडी देश जाने वालो की कोविड जांच नहीं होने से ये कामगार खासे परेशान हो रहे थे। राजस्थान पत्रिका में 19 जुलाई के अंक में टेक ऑफ में कोरोना जांच आडे। खबर प्रकाशन के बाद अस्पताल प्रशासन ने इस बडी समस्या को लेकर चिकित्सा विभाग के सचिव से चर्चा की। विभाग ने इनके लिए अलग से गाइड लाइन नहीं आने तक कोविड लैब में इन कामगारों की जांच निशुल्क करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि एसके अस्पताल में अब तक आईसीएमआर की गाइड लाइन के अनुसार ही कोविड जांच हो रही थी।

गाइडलाइन नही आने से हो रही थी परेशानी
एसके अस्पताल में खाडी देश जाने वाले कामगारों के लिए अलग से गाइड लाइन नहीं थी। इस कारण इन लोगों की कोविड जांच नहीं हो रही थी। ऐसे में कई कामगार कामगार खासे परेशान हो रहे थे। कई कामगार जांच नहीं हो रही थी। ऐसे में अस्पताल प्रशासन ने खाडी देश में जाने के लिए जयपुर से अब फ्लाइट सेवा शुरू हो गई है लेकिन वहां जाने के लिए कोरोना की जांच जरूरी है और रिपोर्ट निगेटिव आने के 72 घंटे में ही संबंधित बाहर जा सकता है। जबकि ये कोरोना काल में खाड़ी देशों से सीकर छुट्टी पर आए थे लेकिन लॉकडाउन के कारण यहां फंस गए। अब इन कामगारों के सामने वीजा अवधि खत्म होने का संकट भी हो गया। इसे देखते हुए चिकित्सा विभाग ने निशुल्क जांच करवाने के मौखिक निर्देश दिए। सीकर, चूरू व झुंझुनूं जिले के लाखों लोग सऊदी अरब, दुबई, कुवैत, कतर, बहरीन में रोजगार करते हैं। इनमें सबसे ज्यादा संख्या सऊदी अरब और दुबई जाने वाले कामगारों की है।
जांच के लिए दिए निर्देश
खाडी देश जाने वाले कामगारों के लिए अलग से कोई गाइड लाइन नहीं आई थी। इस कारण एसके अस्पताल में इनके सैंपल नहीं लिए जा रहे थे। चिकित्सा विभाग के सचिव के निर्देश मिलने के बाद अस्पताल के सभी चिकित्सकों को खाडी जाने संबंधी दस्तावेज देखकर जांच करवाने के निर्देश दिए गए हैं। नई गाइडलाइन से पता चलेगा कि कामगारों की कोविड जांच के लिए शुल्क लगेगा या नहीं।
डा अशोक चौधरी, पीएमओ सीकर

Puran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned