जीप व ऑटो की टक्कर में एक की मौत, 9 घायल, पुलिस के खिलाफ रात से धरना जारी

राजस्थान के सीकर जिले में खाटूश्यामजी रींगस रोड पर बीती शाम जीप की टक्कर से ई- रिक्शा सवार एक महिला की मौत व 9 जनों के घायल होने के मामले में रात को शुरू हुआ कस्बेवासियों का धरना प्रदर्शन शुक्रवार को भी जारी है।

By: Sachin

Published: 16 Oct 2020, 09:48 AM IST

सीकर/ खाटूश्यामजी. राजस्थान के सीकर जिले में खाटूश्यामजी रींगस रोड पर बीती शाम जीप की टक्कर से ई- रिक्शा सवार एक महिला की मौत व 9 जनों के घायल होने के मामले में रात को शुरू हुआ कस्बेवासियों का धरना प्रदर्शन शुक्रवार को भी जारी है। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि फरार जीप चालक को गिरफ्तार करने के साथ मामले को रींगस थाने का बताकर घटना स्थल से वापस लौटने वाले दोषी पुलिसकर्मियो के खिलाफ कार्रवाई हो। मांग नहीं माने जाने तक प्रदर्शनकारी उठने को तैयार नहीं है। गौरतलब है कि खाटूश्यामजी का एक परिवार आभावास में तिलक समारोह में शामिल होकर गुरुवार शाम ई-रिक्शाा से वापस लौट रहा था। इसी दौरान चौमूं पुरोहितान के पास जीप ने रिक्शे को पीछे से टक्कर मार दी। जिसमें मीरा देवी वर्मा की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 3 घायल हो गए थे। घटना के बाद जीप चालक फरार हो गया था। आरोप ये भी है कि घटना के बाद खाटूश्यामजी पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन, रींगस थाने का मामला बताकर वापस लौट आई। जिसकी वजह से ही समय रहते महिला को उपचार नहीं मिलने से उसकी मौत हो गई। ऐसे में गुस्साए कस्बेवासी गुरुवार शाम को ही खाटूश्यामजी सीएचसी में धरने पर बैठगए और दोषी पुलिसकर्मियों व जीप चालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

ये है पूरा मामाल
पुलिस के अनुसार खाटूश्यामजी के वार्ड 10 की मीरा देवी वर्मा (56) पत्नी कुरड़ाराम, माया देवी, कमलेश देवी, सोहन, राहुल, हरीश, चालक धोलूराम गवारिया, किशनलाल नायक (17), सुंडाराम (15), सीताराम उर्फ फत्तुराम (45) गुरूवार सुबह आभावास में अपने रिश्तेदार के यहां तिलक कार्यक्रम में ई-रिक्शा लेकर गए थे। शाम को वापिस लौटते समय चौमू पुरोहितान के आगे निकलते ही जीप ने टक्कर मार दी। इनमें से मीरा देवी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि जहां चालक धोलूराम, माया देवी और सीताराम के गंभीर चोट लगने से उन्हें सीकर रैफर कर दिया। वहीं बाकी घायलों का प्राथमिक उपचार कर उन्हें छुट्टी दे दी।

आरोप: खाटू पुलिस रींगस सीमा की बात कह घायलों को छोड़ आई
घटना के समय खाटू पुलिस की कार्यशैली पर नाराजगी जाहिर करते हुए मृतका और घायलों के परिजन और वार्ड के लोग खाटू सीएचसी परिसर में धरने पर बैठ गए। परिजनों ने बताया कि घटना के समय खाटू पुलिस की गाड़ी मौके पर पहुंची। मगर घायलों को ले जाने के बजाय रींगस पुलिस की सीमा की बात कहकर वहां से चले गए। परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस अगर अपनी जिम्मेदारी निभाती तो महिला को समय पर ईलाज मिल जाता तो उसकी मौत नहीं होती। परिजनों ने 108 के देरी से पहुंचने का आरोप लगाया।

रातभर से जारी प्रदर्शन
जीप चालक की गिरफ्तारी व दोषी पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों का खाटूश्यामजी सीएचसी पर शुरू हुआ धरना शुक्रवार को अब भी जारी है। प्रदर्शनकारी अब भी अपनी मांग पर अड़े हैं। इसके बाद ही शव का पोस्टमार्टम करने की बात कह रहे हैं। रींगस सीआई रघुवीर शरण व थानाप्रभारी पूजा पूनियां सहित प्रशासनिक अधिकारी प्रदर्शनकारियों को समझाने में जुटे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned