प्याज का होगा बंपर उत्पादन, लेकिन किसानों की बढ़ी चिंता

सीकर. कोरोना काल में किसानों की हितैषी होने का दंभ भरने वाले जिम्मेदार किसानों की अनदेखी कर रहे हैं।

By: Sachin

Published: 19 Sep 2020, 08:31 AM IST

सीकर. कोरोना काल में किसानों की हितैषी होने का दंभ भरने वाले जिम्मेदार किसानों की अनदेखी कर रहे हैं। इसकी बानगी है कि जिले में प्याज उत्पादक किसानों ने अच्छे भावों की उम्मीद में प्याज की बुवाई कर रहे हैं लेकिन पिछले साल बढ़े भावों पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने इस बार अभी प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी है ऐसे में प्याज के भाव एक बार गिरने शुरू हो गए हैं। और प्याज उत्पादक किसानों को उनकी मेहनत का मोल कोडिय़ों के भावों में बिकने की आशंका नजर आ रही है। हाल यह है कि निर्यात पर रोक लगाने के साथ ही सीकर मंडी में आने वाले नासिक के बढिय़ा गुणवत्ता वाले प्याज के थोक- दो से चार रुपए प्रति किलो तक टूट गए हैं। ऐसे में किसानों को भावों में और गिरावट आने की चिंता सताने लगी है। गौरतलब है कि जिले में इस बार जिले में प्याज की बुआई 17 से 19 हजार हैक्टेयर के बीच हो सकती है। जबकि पिछले साल प्याज की बुवाई 11 हजार 700 हैक्टेयर में बुआई हुई थी।


निर्यात पर रोक से की प्याज के भावों पर पड़ेगा कुछ असर
थोक व्यापारियों ने बताया मंडी में आने वाले किसानों के अनुसार सरकार ने प्याज के भाव नियंत्रित रखने के लिए इसके निर्यात पर रोक लगा दी है। इससे नासिक के प्याज के भाव गिरेंगे लेकिन सीकर के प्याज के भावों पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। सीकर में फिलहाल प्याज की नई फसल की आवक नहीं हो रही है इस कारण निर्यात पर रोक से भाव कुछ कम रह सकते हैं, लेकिन महाराष्ट्र व कर्नाटक में अधिक बारिश से प्याज की फसल को नुकसान होने के कारण भाव ज्यादा गिरने की उम्मीद कम है।

 

यह है थोक भाव

निर्यात पर रोक के बाद सीकर मंडी में नासिक का प्याज 11 से 32 रुपए प्रतिकिलो, स्थानीय प्याज 15 से 24 रुपए प्रति किलो तक बिक रहा है जबकि निर्यात पर रोक से पहले नासिक का प्याज 25 से 40 रुपए और स्थानीय प्याज 6 से 18 रुपए तक था।


इनका कहना है


पिछली बार नौ बीघा में प्याज बोया था लेकिन भाव ज्यादा रहने के कारण इस बार प्याज की बुवाई 15 बीघा में करने का मानस है।

श्रवणलाल रेपसवाल, किसान, हुडील

सीकर मंडी में फिलहाल नासिक का प्याज ही आ रहा है। निर्यात पर रोक से नासिक का प्याज के भावों में कुछ गिरावट आई है।
देवीलाल चौधरी, बासडी, थोक व्यापारी, सीकर मंडी

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned