मानधन योजना से कामगार को मिलेगी पेंशन

मानधन योजना से कामगार को मिलेगी पेंशन

Vinod Singh Chouhan | Publish: Mar, 02 2019 10:38:56 PM (IST) | Updated: Mar, 02 2019 10:38:57 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

15 हजार से कम आय वाले असंगठित श्रमिक की 60 वर्ष बाद हर महीने 3 हजार रुपए न्यूनतम निश्चित पेंशन होगी शुरू

 

सीकर. 15 हजार से कम आय वाले असंगठित श्रमिकों को वृद्धावस्था सुरक्षा देने के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना शुरू की गई हैं। योजना में 18 से 40 साल तक की उम्र के व्यक्ति पंजीकरण करवा सकते है। उनकी 60 वर्ष बाद हर महीने 3 हजार रुपए की न्यूनतम पेंशन शुरू हो जाएगी। असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा अधिनियम 2008 के तहत योजना का लाभ अधिक से अधिक असंगठित कामगारों तक पहुंचाया जाएगा।

मजदूर का हर वर्ग होगा लाभांवित
सहायक श्रम आयुक्त चैन सिंह शेखावत ने बताया कि मजदूर के साथ-साथ अब घरों में काम करने वाले, रेहड़ी लगाने वाले, फेरी वाले, ईंट भट्टा कामगार, मिड डे मील वर्कर, कचरा बीनने वाले, रिक्शा व ठेला चलाने वाले, मोची, ग्रामीण, भूमिहीन श्रमिक मजदूर भी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना के पात्र होंगे। मजदूर की आय 15 हजार मासिक से कम हो वे ही पात्र होंगे।
आयु के अनुसार तय अंशदान

योजना के तहत कोई मजदुर यदि 18 वर्ष की आयु में पंजीकरण कराता है, तो उसे 55 रुपए अंशदान देना होगा। वहीं 29 वर्ष की आयु वाले को 100 रुपए तथा 40 वर्ष वाले को 200 रुपए मासिक अंशदान देना होगा। पंजीकरण एवं प्रीमियम के लिए आवेदक को अलग से कोई शुल्क नहीं देना होगा। सीएससी केंद्रों पर इसके लिए निशुल्क पंजीकरण व कार्ड दिया जाएगा। केंद्र पर पंजीकरण कराने के बाद तुरंत प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना कार्ड दिया जाएगा। कामगारों को पंजीकरण के लिए पेंशन के अंशदान की पहले माह की किस्त नकद देनी होगी। आगामी माह में पात्र व्यक्ति की अंशदान राशि हर माह उसके बैंक खाते से काटी जाएगी।

demo pics

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned