कोरोना: राजस्थान से आ रही ऐसी तस्वीरें जो आंकड़े बढ़ाने के लिए बन सकती हैं जिम्मेदार!

pictures coming from Rajasthan can be responsible for this condition
अधिकांश वैक्सीनेशन सेंटर्स जिसमें अधिकांशत: गांव के हैं वहां वैक्सीनेशन के लिए दरकिनार किया जा रहा है सोशल डिस्टेंस। कोरोना के आंकड़े बढऩे में इस तरह की लापरवाही की अहम भूमिका बन सकती है।

By: Gaurav

Published: 08 May 2021, 06:15 PM IST

pictures coming from Rajasthan can be responsible for this condition
-पहली सीख...सोशल डिस्टेंस, फिर वैक्सीनेशन
-नीमकाथाना: वैक्सीन कक्ष में एक साथ भीड़ घूसने से हुई अव्यवस्था
-15 मिनट तक रुकवाना पड़ा टीकाकरण
सीकर. वैक्सीन (corona vaccine) लगवाने के लिए अब लोगों में होड़ मचना शुरू हो गई। कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीनेशन करवाने में सोशल डिस्टेंस जैसी महत्वपूर्ण गाइडलाइन (corona guideline) को दरकिनार किया जा रहा है। राजस्थान के अधिकांश ग्रामीण वैक्सीनेश सेंटर्स पर कमोबेश यही हाल हैं। लोग आपाधापी कर रहे हैं और सेंटर्स पर लगने वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर किए जा रहे इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं।


नीमकाथाना: यहां पुलिस ने संभाला मोर्चा तो माने लोग
शुक्रवार को 45 से ऊपर आयु वर्ग लोगों के सीकर जिले के नीमकाथाना ब्लॉक में 7 सेंटरों पर टीकाकरण किया गया। लोग सुबह से ही सेंटरों पर पहुंचनने लग गए थे। जैसे ही 11 बजे टीकाकरण शुरू हुआ तो भीड़ एक साथ उमड़ पड़ी। राजकीय कपिल अस्पताल में वैक्सीन कक्ष में एक साथ भीड़ घूसने से अव्यवस्था हो गई। हालांकि पुलिस मौके पर तैनात थी फिर भी लोग एक साथ कक्ष में घूसकर ऑपरेटर को घेर लिया। सूचना से मौके पर पहुंचे पीएमओ डॉ जीएस तंवर ने लोगों को समझाइश की, नहीं मानने पर अंत में 15 मिनट तक टीकाकरण को बंद करवाया। पुलिस जाब्ता आने के बाद भीड़ को नियंत्रण किया गया। ब्लॉक में कपिल अस्पताल के अलावा सीएचसी गुहाला, पाटन, गणेश्वर तथा पीएचसी मांवडा खुर्द, टोडा व गणेश्वर में टीकाकरण हुआ। सभी सेंटरों पर सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ी। हालांकि मौके पर तैनात अस्पतालकर्मी व पुलिस जवान बार- बार लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के लिए समझाइश करते रहे।


भीड़ को काबू करने के लिए करनी पड़ी मशक्कत
खूड़. कस्बे के पीएचसी केन्द्र पर कल शुक्रवार को टीकाकरण की तारीख तय की गई थी लेकिन एक साथ टीकाकरण के लिए भीड़ उमड़ गई व वैक्सीन खत्म होने पर लोगों को निराश ही वापस जाना पड़ा। वैक्सीन लगवाने उमड़ी भीड़ को काबू करने के लिये पुलिस प्रशासन की मदद भी ली गई। पीएचसी प्रभारी डॉ. ओमप्रकाश गडवाल ने बताया कि हमने एक हजार डोज की मांग की थी परन्तु 150 डोज ही मिलने से लोगों को निराश लौटना पड़ा।


सोशल डिस्टेंस किस चिडिय़ा का नाम!
कांवट. इलाके के गांव भादवाड़ी के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर शुक्रवार को 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई गई। टीकाकरण की सूचना पर टीका लगवाने वाले लोगों की भीड़ अस्पताल में उमड़ पड़ी। पीएचसी के मेल नर्स रामेश्वरलाल ने बताया कि शुक्रवार को 310 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। इस दौरान अस्पताल में वैक्सीन लगवाने आए लोग सोशल डिस्टेंस को भी भूल गए। यहां कोरोना गाइडलाइन की लोगों ने जमकर धज्जियां उड़ाई। बाद में सूचना पर कांवट चौकी प्रभारी बलवीर सिंह मय जाप्ते के अस्पताल पहुंचे। पुलिस के सख्ताई से पेश आने पर लोगों ने दूरी बनाकर टीकाकरण करवाया।


45+ करते रहे इंतजार
नांगल (नाथूसर). ग्राम पंचायत नांगल में राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शुक्रवार को ढाई सौ लोगों ने वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगवाने के लिए बड़ी संख्या में लोग अस्पताल आए,अस्पताल आने पर ग्रामीणों को पता चला कि अभी पैतालीस प्लस वालों के ही वैक्सीन लगाई जा रही है, अठारह प्लस वालों के लिए वैक्सीन नहीं आई ह,ै ग्राम नांगल में बड़ी संख्या में पैतालीस प्लस के लोगों को दूसरे डोज का इंतजार था।


गुहाला में 200 लोगों ने लगावाया टीका
चला. गुहाला के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में शुक्रवार को इंचार्ज डॉ. आनंद कुमार वर्मा की देखरेख में करीब 200 लोगों ने कोरोना बचाव का टीका लगवाया है। सीएचसी में कोरोना वैक्सिन टीकाकरण अभियान के अंतर्गत 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के यह टीका लगाया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned