हरकत में आई पुलिस, अब आएगी इनकी शामत, जाने क्या है पूरा माजरा

पुलिस उप अधीक्षक सुरेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में पुलिस व कोबरा टीम ने आधा दर्जन ठिकानों पर सूदखोरों की तलाश की, लेकिन एक भी सूदखोर पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया।

सूदखोरों के जाल में फंसने के बाद पूर्व विधायक केशरदेव बाबर के पुत्र दिनेश के लापता होने के मामले में शुक्रवार को पुलिस हरकत में आई और सूदखोरों के ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की। पुलिस उप अधीक्षक सुरेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में पुलिस व कोबरा टीम ने आधा दर्जन ठिकानों पर सूदखोरों की तलाश की, लेकिन एक भी सूदखोर पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया। औद्योगिक क्षेत्र, जयपुर रोड व नवलगढ़ रोड पर सूदखोरों की तलाश की गई। आरोपित अनुभव जैन के नवलगढ़ रोड स्थित होटल फोच्र्यून ब्ल्यू में भी तलाशी ली गई, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा। 


लाडो की खातिर एमपी से सीकर आई ये महिला, फिर ये करने लगी काम, जानकर रह जाएंगे दंग





गौरतलब है कि पूर्व विधायक केशरदेव बाबर ने गुरुवार को पुलिस अधीक्षक के समक्ष परिवाद पेश कर पिंटू बाठोद, रंगलाल भडि़या, महेश दादिया, गोपाल झीगर, टिलू खीचड़ गोकुलपुरा, राकेश खीचड़, महेन्द्र सिंह सुंडा, अनुभव जैन, ताराचंद कुल्हरी, सुभाष बाबर, रामलाल पचार कटराथल, नरेन्द्र सागवान चरखी दादरी, किशोर डूडी, सुरेन्द्र दादिया, अनिल शर्मा पिपराली, ताराचंद नायक, प्रकाश जेरठी, प्रहलाद कुल्हरी, वीजेन्द्र खीचड़  व अन्य के खिलाफ सूदखोरी का मामला दर्ज करवाया था। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। 

dinesh rathore
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned