गांव की सरकार के लिए मतदान कल, पहले चरण में इन पंचायत समितियों में चुने जाएंगे पंच-सरपंच

पंचायत चुनाव ( Rajasthan Panchayat Chunav 2020 ) के प्रथम चरण के लिए मतदान ( Voting For First Phase in Panchayat Election ) शुक्रवार यानी कल होंगे। इसको लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है।

सीकर.

पंचायत चुनाव ( Rajasthan Panchayat Chunav 2020 ) के प्रथम चरण के लिए मतदान ( Voting For First Phase in Panchayat Election ) शुक्रवार यानी कल होंगे। इसको लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है। जिला मुख्यालय स्थित श्री कल्याण राजकीय कन्या महाविद्यालय में गुरुवार सुबह 10 बजे नेछवा, अजीतगढ़, दोपहर 12.30 बजे से लक्ष्मणगढ़ मतदान दलों को तथा औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान जयपुर रोड़ सीकर के मैदान से सुबह 10 बजे से नीमकाथाना, पाटन, दोपहर 12.30 बजे से पलसाना के मतदान दलों को अंतिम प्रशिक्षण के बाद रवाना किया गया। बता दें कि पंचायत चुनाव के प्रथम चरण में पंचायत समिति लक्ष्मणगढ़ की 35 ग्राम पंचायतों में 180 मतदान केन्द्र, नेछवा में 18 ग्राम पंचायतों में 99 मतदान केन्द्र, पलसाना में 29 ग्राम पंचायतों में 133, नीमकाथाना में 33 ग्राम पंचायतों 158, अजीतगढ़ में 24 ग्राम पंचायतों में 127, पाटन में 22 ग्राम पंचायतों में 89 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। गौरतलब है कि कल जिले की नीमकाथाना, अजीतगढ़, पलसाना, नेछवा, पाटन, लक्ष्मणगढ़ में पंच, सरपंच पद के मतदान होने है।

पंचायत चुनाव के मतदान से एक दिन पहले राजस्थान पुलिस की बड़ी कार्रवाई, जानिए पूरा मामला

लगाया पूरा दमखम
नीमकाथाना/टोडा. पंचायत चुनाव में सरपंच पद प्रत्याशियों ने पूरा दमखम लगा रखा है। परिवार के अलावा प्रत्याशी अपने दूरदराज के रिश्तेदारों को बुलाकर जनसपंर्क में चुनाव प्रचार में लगा रखा है। नीमकाथाना, पाटन व अजीतगढ़ पंचायत समिति की हॉट सीट वाली ग्राम पंचायतों में क्षेत्र के नेता अपने प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार में जुटे हैं। पंचायत समिति अजीतगढ़, पाटन व नीमकाथाना की आधा दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों चुनावी दंगल में फंस रही है। इन ग्राम पंचायतों में जीताकर लाने में नेताओं के पसीने छूट रहे हैं। पंचायत समिति नीमकाथाना की ग्राम पंचायत पुरानावास में जि.स. मोंटू कृष्णियां अपनी 97 वर्षीय दादी को जीताने का प्रयास कर रहे हैं।

राजस्थान पंचायत चुनाव को लेकर हरियाणा बॉर्डर पर अलर्ट, सभी वाहनों की तलाशी जारी


पति-पत्नी, देवरानी-जेठानी भी आमने सामने
प्रतीक तिवाड़ी, पाटन. गांव की सरकार में मुखिया बनने के सपने ने चुनावी मैदान में रिश्तों को आमने सामने लाकर खड़ा कर दिया है। कहने को तो चाहे कोई डमी प्रत्याशी ही चुनाव मैदान में खड़ा हो पर आंकड़ों के अनुसार इस बार पाटन पंचायत समिति में हो रहे सरपंच चुनाव में पति-पत्नी, चाचा-भतीजा व देवरानी-जेठानी आमने सामने चुनाव मैदान में हैं। पाटन में अभय सिंह तंवर व उनकी पत्नी आशा कंवर दोनों ही सरपंच का चुनाव लड़ रहे हैं। राजपुरा पंचायत में चाचा ताराचंद मीणा के सामने उनके भतीजे रामसिंह मीणा ने ताल ठोक रखी है तो वहीं डूंगा की नांगल में जेठानी विमला देवी के सामने उनकी देवरानी धोली देवी चुनाव लड रही हैं। धोली देवी वर्तमान में डूंगा की नांगल की सरपंच भी हैं। सरपंच चुनाव में निर्वाचन आयोग द्वारा प्रत्याशियों को हिन्दी वर्णमाला के अनुसार चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाते हैं। कई प्रत्याशी मनपसंद चिन्ह लेने के चक्कर में अपने परिवार के सदस्यों का नामांकन पत्र दाखिल करवा देते हैं। मनपसंद चिन्ह लेने के चक्कर में परिवार के सदस्य ही चुनाव मैदान में आमने सामने हो जाते हैं।

Naveen Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned