राजस्थान में पुलिसकर्मियों ने सोशल मीडिया पर चलाया आंदोलन, विधायकों के पत्र हो रहे वायरल

कोरोना महामारी से बचाव के बीच सोशल मीडिया पर पुलिसकर्मियों का एक कैंपेन शुरू हो गया है। (rajasthan police started campaign in social media)

By: Sachin

Published: 24 Aug 2020, 10:06 AM IST

सीकर. कोरोना महामारी से बचाव के बीच सोशल मीडिया पर पुलिसकर्मियों का एक कैंपेन शुरू हो गया है। पुलिसकर्मियों के कैंपेन में कांस्टेबल की ग्रेड पे 2400 से बढ़ाकर 3600 किए जाने की मांग जोर शोर से उठाई जा रही है। ट्वीटर, व्हाटसएप सहित फेसबुक पर भी अभियान चलाकर समर्थन मांगा जा रहा है। नागरिक सुरक्षा समन्वय समिति सहित कई अन्य समितियों की ओर से पूरा कैंपेन चलाया जा रहा है। सोशल मीडिय़ा पर चल रहे कैंपन के साथ ही प्रदेश के कई विधायकों ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर 3600 ग्रेड-पे बढ़ाने की मांग की है। कोरोना काल में पुलिस का कार्य किसी से छिपा हुआ नहीं है। इसके बावजूद 24 घंटे डयूटी देने वाले कांस्टेबलों को मात्र 2400 ग्रेड-पे ही दिया जाता है। जिससे न तो उनकी आर्थिक सही है और न ही पारिवारिक खर्च चल पा रहा है। हार्ड डयूटी देने के बावजूद भी सही वेतनमान नहीं मिल पाने के कारण अधिकतर पुलिसकर्मी मानसिक तनाव में रहते है। जिसका असर पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी देखा जाता है। फिलहाल रतनगढ़ विधायक अभिनेष महर्षि, लाडनूं से मुकेश भाकर, जायल नागौर से मंजू देवी मेघवाल के अलावा विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी, विधायक रामप्रसाद डिंडोर, कैलाश मीना, गणेश घोगरा, मुरालीलाल मीणा, प्रताप सिंह सिंघवी, इंद्राज गुर्जर, रुपाराम मुरावतिया, डा.विकास चौधरी, गोविंद रानीपुरिया, रामलाल मीणा, विनोद कुमार, विजयपाल मिर्धा, ओमप्रकाश हुडला, बलवान पूनिया सहित कई अन्य विधायकों ने मुख्यमंत्री को ग्रेड-पे बढ़ाए जाने के लिए पत्र लिखे है।

न संगठन और न हड़ताल
अक्सर कर्मचारी मांगों को लेकर सड़क जाम कर विरोध प्रदर्शन करते है। काली पट्टी बांध कर कार्य बहिष्कार भी करते है। इसके बावजूद पुलिसकांस्टेबल किसी भी संगठन में शामिल नहीं है और हड़ताल भी नहीं करते है। इसलिए कांस्टेबल की मांग विधानसभा के पटल तक पहुंच ही नहीं पाती है। ग्रेड-पे 3600 करने के अलावा 10 हजार रुपए प्रतिवर्ष वर्दी भत्ता, मैस भत्ता 4 हजार रुपए प्रति माह, 50 रुपए साइकिल भत्ते के स्थान पर दो हजार रुपए पेट्रोल व डीजल एवं पांच सौ रुपए मोबाइल भत्ता दिए जाने की मांग की जा रही है।

धोद विधायक ने लिखा पत्र

धोद विधायक ने ही सीएम को पत्र लिखा है। धोद विधायक परसराम मोरदिया ने पुलिस कांस्टेबल वेतन ग्रेड-पे बढ़ाने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है। विधायक मोरदिया के मीडिय़ा प्रभारी राकेश जाट ने बताया कि मुख्यमंत्री को पत्र लिखा गया है। पुलिस कांस्टेबल की लंबे समय से मांग है कि उनका वेतन ग्रेड पे 2400 से बढ़ाकर 3600 रुपए किया जाए।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned