30 सितम्बर तक तबादलों की छूट, थर्ड ग्रेड शिक्षकों की जगी आस


शिक्षा मंत्री बोले, पंचायतीराज और शिक्षा विभाग मिलकर बनाएंगे पॉलिसी
अब तबादलों की छूट मिलने से मिल सकती है प्रस्ताव को हरी झंडी

By: Ajay

Updated: 14 Sep 2021, 06:23 PM IST

सीकर.
लगभग ढ़ाई साल से तबादले की आस लगाए बैठे तृतीय श्रेणी शिक्षकों की आस फिर जगी है। क्योंकि सरकार ने तबादलों की छूट बढ़ाकर 30 सितम्बर कर दी है। पहले यह छूट 15 सितम्बर थी। कई विभागों की तबादला सूची फंसने की वजह से राज्य सरकार ने छूट और बढ़ा दी है। ऐसे में शिक्षा विभाग की ओर से अब तृतीय श्रेणी शिक्षकों की तबादला पॉलिसी पर बेहतर तरीके से काम किए जाने की संभावना है। इससे तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादले की आस भी जग गई है। इधर तीन दिन पहले शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि बिना गाइडलाइन तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादले नहीं किए जाएंगे। ऐसे शिक्षक संगठनों की ओर से अब जल्द गाइडलाइन बनाने की मांग की जा रही है। डोटासरा ने मंगलवार को जयपुर में मीडिया से बातचीत में कहा कि कि तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती पंचायतीराज विभाग की ओर से की जाती रही है। ऐसे में तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों के लिए गाइडलाइन भी शिक्षा व पंचायतीराज विभाग की ओर से मिलकर बनाई जाएगी। गाइडलाइन बनाने की दिशा में लगातार काम चल रहा है। मुख्यमंत्री के गाइडलाइन को हरी झंडी देने के बाद ही तबादले होंगे। शिक्षा मंत्री डोटासरा ने कहा कि सीकर, चूरू, झुंझुनूं, दौसा व जयपुर सहित आठ जिलों के 55 हजार से अधिक आवेदन आए है। ऐसे में सरकार पॉलिसी के बिना तबादले किसी भी सूरत में नहीं कर सकती है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि तबादलों में पारदर्शिता लाने के लिए पहली बार ऑनलाइन आवेदन का पैटर्न हमारी सरकार ने शुरू किया है। सरकार की ओर से फिलहाल 15 सितम्बर तक तबादलों की छूट है। ऐसे मेें इस बार के तबादला सीजन में तृतीय श्रेणी शिक्षकों को राहत मिलने के आसार काफी कम है।

गाइडलाइन में क्या खास:
मंत्री ने गाइडलाइन को लेकर कुछ संकेत दिए है। उन्होंने कहा कि कुछ शिक्षक वर्षो से दूर-दराज के जिलों में कार्यरत है। दिव्यांग, महिला, विधवा, एकल महिला, गंभीर बीमारियों से पीडि़त, पति-पत्नी प्रकरण आदि को प्राथमिकता दी जाएगी।

Ajay Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned