देशी कट्टे, तलवार और पिस्टल के साथ पकड़े गए चार लाख की लूट के आरोपी, लूट के रुपयों से खरीदी गाड़ी

सीकर/ फतेहपुर. रामगढ़ सेठान पुलिस ने 6 माह पहले हुई चार लाख रुपए की लूट में शामिल दो बदमाशों को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। दोनों से वारदात को लेकर पूछताछ की जा रही है।दोनों के खिलाफ कई आपराधिका मामले दर्ज है।

By: Sachin

Published: 15 Jul 2020, 06:43 PM IST

सीकर/ फतेहपुर. रामगढ़ सेठान पुलिस ने 6 माह पहले हुई चार लाख रुपए की लूट में शामिल दो बदमाशों को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। दोनों से वारदात को लेकर पूछताछ की जा रही है।दोनों के खिलाफ कई आपराधिका मामले दर्ज है। फतेहपुर डीवाईएसपी ओमप्रकाश किलानियां ने बताया कि तैयब उर्फ तब्बू पुत्र मोहिदीन खान, निवासी वार्ड न 40 मोमीनपुरा, फतेहपुर व सनीफ खान उर्फ सीपा पुत्र आमीन खा निवासी रोहलसाबसर को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि रामगढ सेठान थानाधिकारी उमाशंकर को गश्त के दौरान ढाढण रोड़ पर हथियार साथ एक व्यक्ति के मिलने की सूचना मिली। पुलिस पहुंची तो तैयब उर्फ तब्बू को घेराव कर पकड़ लिया। उसके पास एक देशी कट्टा, एक जिन्दा कारतुस व दो चाकू मिले। वही पुलिस ने रामगढ़ कस्बे में रूईया कॉलेज के पास बिना नंबरी मोटर साईकिल पर घूमते हुए सनीफ खान को पकड़ा। उसके पास से तलाश में एक पिस्टल, 2 कारतुस व तलवार मिली। पुलिस ने आरोपी के पास से हथियार बरामद कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता लगा कि रामगढ़ थाना इलाके में छह माह पहले चार लाख रुपए की लूट की गई थी। वारदात में उसके साथ तैयब भी शामिल था। डीवाईएसपी ओमप्रकाश किलानियां ने बताया कि पुलिस टीम में थानाधिकारी उमाशंकर, कांस्टेबल ओमप्रकाश, मदनलाल, अनिल कुमार, नवीन कुमार, धर्मपाल टीम में शामिल थे।

लूट के पैसों से खरीदी गाडी
जांच में पता लगा कि तैयब ने लूट के पैसों से गाडी खरीद ली थी। साथ ही मौज मस्ती में रुपए उड़ा दिए थे। अब वह बड़ी वारदात करने के फिराक में था। इससे पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए। दोनों आरोपी शातिर बदमाश है। इनके खिलाफ पहले से ही कई मामले दर्ज है। आरोपी सनीफ के खिलाफ मारपीट, बलात्कार, आम्र्स एक्ट में सहित विभिन्न धाराओं में सात मामले दर्ज है। वहीं आरोपी तैयब के खिलाफ भी मारपीट सहित अन्य धाराओं में आठ मामले दर्ज है।


लूट व डकैती के लिए मेले से लेकर आए थे एयरगन, चारों को जेल भ्ेाजा

सीकर. लूट व डकैती की वारदात में पकड़े गए चारों युवक मेले से एयरगन लेकर आए थे। उसके बाद पालवास रोड पर पांच जनों ने मिलकर वारदात को अंजाम दिया। वारदात के बाद चारों ने पार्टी भी की। सदर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह ने बताया कि महेंद्र मेघवाल, अशोक सैनी, निरंजन सिंह, अभिषेक सिंह को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से चारों को जेल भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि कई अन्य वारदातों में भी पीडि़तों को बुलाकर चारों को दिखाकर शिनाख्त कराई गई। साथ ही चारों की सूचना अन्य थानों में भी भेजी गई है। उन्होंने बताया कि अब पीडि़त से शिनाख्त कराई जाएगी। जांच में सामने आया कि महेंद्र के पास कोई साधन नहीं था। उसने बाबूलाल से काम के लिए बाइक मांग कर ली थी। दो दिन पहले बाइक बेच भी दी थी। वहीं नाबालिग ने भी फरवरी में ही घर से बिना बताए मामा के नाम से बाइक ली थी। जिसका काफी विरोध हुआ था। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned