सरपंच सावधान! अकाउंट से यूं गायब हो सकते हैं रुपये

यदि आप किस भी पंचायत के सरपंच है और आपके पास जल जीवन मिशन योजना के ठेकेदार के नाम पर फोन आता है तो आपको सावधान रहने की जरूरत है।

By: Sachin

Published: 13 Sep 2021, 10:44 AM IST

सीकर/मूंडरू. यदि आप किस भी पंचायत के सरपंच है और आपके पास जल जीवन मिशन योजना के ठेकेदार के नाम पर फोन आता है तो आपको सावधान रहने की जरूरत है। क्योंकि साइबर ठगों ने अब सरपंचों को ठगी का शिकार बनाना शुरू कर दिया है। वे जल जीवन मिशन योजना के ठेकेदार बनकर सरपंचों को फोन कर रहे हैं। लेबर के रहने व खाने की व्यवस्था के लिए 50 हजार रुपये भेजने के बहाने उनसे खाता नंबर, गूगल-पे और फोन-पे नंबर पूछ रहे है। श्रीमाधोपुर, अजीतगढ़ सहित जिलेभर में लगभग सभी गांवों में जलदाय विभाग द्वारा जल जीवन मिशन के तहत पानी के लिए करोड़ों रुपए का बजट स्वीकृत हुआ है। इसके बाद से साइबर ठग सक्रिय हो गए है।

टंकी व पाइप का ठेका बताकर ठगी
ठग सरपंचों को फोन कर खुद को पीएचडी का ठेकेदार बताते हुए पंचायत में पानी की टंकियां व पाइप लाइन डालने की बात कह रहे हैं। जिसके लिए अगले दिन लेबर पहुंचने की बात कहते हुए वे उनके लिए सरपंचों के खाते में 50 हजार रुपये डालने की बात कहते हुए उनसे खाता नंबर, गूगल पे नंबर या फोन पे नंबर मांग रहे हैं।

केस -1
फूटाला सरपंच गोमती देवी ने बताया कि उनके पास पांच- छह दिन पहले 8011675193 नम्बर से फोन आया था। बोला कि सरपंच जी मुझे आपकी ग्राम पंचायत में जल जीवन मिशन योजना का ठेका मिला है। आप मुझे फोन पे या बैंक खाता संख्या बताओ। मैं लेबर की रहने खाने की व्यवस्था के लिए 50 हजार रुपये भेज रहा हूं। सरपंच ने बताया कि अभी तक उनकी ग्राम पंचायत का जल जीवन मिशन योजना में चयन नहीं हुआ है।

केस -2
मूंडरू सरपंच सुमित्रा देवी के पास 8462005284 नंबर से फोन आया कि मैं चितौडगढ़़ से जल जीवन मिशन योजना का ठेकेदार बोल रहा हूं। कल मेरी लेबर आपकी ग्राम पंचायत में पहुंच जाएगी। उनके रहने की व्यवस्था कराना। मुझे अकॉउंट नम्बर बताओ ताकि मैं उनके रहने खाने की व्यवस्था के लिए पैसे डाल दु। बाहर के नम्बर देखकर सरपंच ने जानकारी देने से मना कर दिया। इसके अलावा हांसपुर सहित कई सरपंचों के पास कॉल आये है।

इनका कहना है-
जल जीवन मिशन योजना के ठेकेदार बनकर साइबर ठग सरपंचों को कॉल कर रहे है। जिनमें पैसे भेजने के नाम पर अकॉउंट की डिटेल पूछी जा रही है। सरपंच सावधान रहें। ऐसे कॉल अटेंड नहीं करें और न ही जानकारी देवे।

सुनील कुमार सहायक अभियंता जलदाय विभाग, श्रीमाधोपुर, सीकर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned