शेखावाटी का प्याज अब पंजाब और यूपी की मंडियों में पहुंचा

सीकर मंडी में दूसरे राज्यों से आए व्यापारी

पिछले वर्ष से दोगुना है प्याज के थोक भाव

By: Puran

Published: 19 Mar 2020, 11:10 AM IST

सीकर. शेखावाटी के मीठे प्याज ने देश की थोक मंडियों में पैर जमाने शुरू कर दिए हैं। प्याज की मांग बढऩे का आलम ये है कि पिछले वर्ष की तुलना में प्याज के थोक भावों में दो गुना तक तेजी आ गई है। सीकर मंडी से रोजाना 10 से अधिक ट्रकों में प्याज बाहर की मंडियों में जा रहा है। इससे प्याज उत्पादक किसानों के चेहरों पर खुशी झलकने लगी है। भावों में तेजी को देखते हुए व्यापारी प्याज की पकने से पहले ही खुदाई कर रहे हैं वहीं व्यापारी भी किसानों से सीधे अग्रिम सौदे कर रहे हैं।

तेजी के आसार

नासिक के प्याज की गुणवत्ता गिर गई और शेखावाटी के मीठे प्याज की मांग बढ़ गई। नासिक के एक्सपोर्टस सीकर में स्थानीय प्रतिनिधियों के माध्यम से प्याज की खरीद फ रोख्त के सौदे कर रहे हैं। । इस कारण प्याज के भावों में तेजी आने के आसार बने हुए हैं। सीकर थोक मण्डी में प्याज के थोक भाव 10 से 13 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गए हैं।

व्यापारी अधिक आवक कम

सीकर थोक मण्डी में इस समय प्याज के सात से 12 हजार कट्टों की आवक है। पिछले वर्ष की तुलना में मण्डी में आवक कम होने व खरीददार अधिक होने से व्यापारियों को मांग के अनुसार प्याज के कट्टे नहीं मिल रहे हैं।

इनका कहना है

यूपी व पंजाब हरियाणा के व्यापारी मंडी में प्याज की खरीद करने पहुंच गए हैं। नासिक के प्याज का एक्सपोर्ट खुलने के साथ ही सीकर के प्याज की मांग और बढ़ जाएगी। फसलों की कटाई शुरू होने के कारण दूसरे राज्यों में शेखावाटी के प्याज की प्याज की मांग बनी हुई। देश में अन्य जगह प्याज उत्पादक क्षेत्र कम होने से आगामी दिनों में प्याज के भावों में तेजी रहेगी।

नेमीचंद दूजोद, थोक प्याज व्यापारी कृषि उपज मंडी सीकर

Puran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned