शेखावाटी विश्वविद्यालय ने उठाया परीक्षा की गोपनीयता के लिए विशेष कदम

पंडित दीनदयाल उपाध्याय शेखावाटी विश्वविद्यालय ने परीक्षा में गोपनीयता बनाए रखने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

Ashish Joshi

February, 1405:51 PM

सीकर.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय शेखावाटी विश्वविद्यालय ने परीक्षा में गोपनीयता बनाए रखने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। परीक्षा नियंत्रक मुनेश कुमार ने बताया कि यह व्यवस्था हर बार की जाती है, उसके बावजूद कई बार पेपर आउट होने की शिकायत मिलती है। ऐसे में परीक्षा की गोपनीयता को बनाए रखने के लिए 28 परीक्षा केंद्रों पर ऑब्जर्वर लगाए जाएंगे। यह ऑब्जर्वर सुबह लिफाफे से पेपर निकलने से लेकर इनकी पैकिंग होने तक कॉलेजों में मौजूद रहेंगे। इसके अलावा पेपर के बीच में इस बार कोर्ड सेट किए गए है। जिससे सेंटर का आसानी से पता लगाया जा सकता हैं।


86 सेंटर दो लाख से अधिक विद्यार्थी
जानकारी के अनुसार सीकर व झुंझुनूं जिले के साढ़े तीन सौ से अधिक कॉलेजों से करीब 2 लाख 70 हजार विद्यार्थी परीक्षा में बैठेंगे। इस बार कुल 86 परीक्षा सेंटर बनाए गए हैं। कैमरे की निगरानी में परीक्षाएं संचालित होगी।


पेपर रखने के लिए सभी सेंटरों पर डबल लॉकर स्ट्रांॅग रूम बने हुए हैं। परीक्षा में छह फ्लाइंग टीमें बनाई जाएगी। प्रत्येक टीम में तीन सदस्य होंगे। टीमों के सदस्य रोज बदलते रहेंगे।


सेंटरों पर विशेष ध्यान
मलसीसर, हेतमसर और लक्ष्मणगढ़ को छोडकऱ दोनों जिलों के सभी कॉलेजों को सेंटर बनाया गया है। सरकारी व निजी सेंटरों पर 500 से लेकर ढ़ाई हजार से अधिक विद्यार्थियों के बैठने की व्यवस्था की गई है। परीक्षा के बीच में सेंटरों पर किसी तरह की परीक्षार्थियों को समस्या ना हो इसके चलते पिछले साल के चार सेंटरों को निरस्त भी किया गया है। और पूर्व के छह सेंटरों पर विद्यार्थी अलोट भी किए गए हैं। तीनों पारियों में परीक्षा चलेगी। पहली पारी में तृतीय वर्ष, दूसरी में प्रथम और तीसरी पारी में द्वितीय वर्ष के विद्यार्थी परीक्षा देंगे।

Ashish Joshi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned