राजस्थान के कपड़े व्यापारी का बेटा सूरत के स्वीमिंग पूल में डूबा

vishwanath saini

Publish: May, 18 2018 03:50:10 PM (IST)

Sikar, Rajasthan, India
राजस्थान के कपड़े व्यापारी का बेटा सूरत के स्वीमिंग पूल में डूबा

राजस्थान के कपड़े व्यापारी के 13 वर्षीय बेटे की मौत हो गई। व्यापारी पिंकेश पोद्दार राजस्थान के सीकर के रहने वाले हैं।

सीकर.

गुजरात के सूरत के एक स्वीमिंग पूल में डूबने से राजस्थान के कपड़े व्यापारी के 13 वर्षीय बेटे की मौत हो गई। व्यापारी पिंकेश पोद्दार राजस्थान के सीकर के रहने वाले हैं। इनका सूरत में कपड़ों का कारोबार है। परिजनों का आरोप है कि उन्होंने स्वीमिंग सीखाने वाले क्लब की लापरवाही के कारण अपना बेटा खो दिया।

15 दिन से सीख रहा था तैराकी

-पिंकेश पोद्दार सूरत के वेसू रोड पर नंदनवन में रहते हैं। इनका 13 साल का बेटा हर्ष पोद्दार श्रीश्री रविशंकर महाराज स्कूल आहवा में सातवीं का विद्यार्थी था।
-हर्ष सूरत के कापडिया हेल्थ क्लब के स्वीमिंग पूल में तैराकी सीखने जाया करता था। बुधवार शाम को भी क्लब गया था।
-पिछले 15 दिन से तैराकी सीख रहा था। बुधवार शाम को अन्य बच्चों के साथ वह भी स्वीमिंग पूल में उतर गया।
-उस वक्त करीब 35 बच्चे स्वीमिंग सीख रहे थे। वहीं 6 प्रशिक्षक भी वहां मौजूद थे।
-हर्ष बुधवार को अपनी मां पूजा, छोटे भाई देवांश और मामा के साथ क्लब गया था।
-उसे पूल में बिना फ्लोटर के उतारा गया था। वह पानी में कूदा उसके बाद डूब गया। किसी को पता नहीं चला।
-हर्ष के डूबने का पता तब चला जब उसकी मां चिल्लाने लगी कि मेरा बेटा पानी में डूब रहा है। उसे बचाओ।
-हर्ष को पानी से निकालकर तुरंत सिविल अस्पताल ले जाया गया। वहां से उसे महावीर अस्पताल रैफर किया गया।
-उपचार के दौरान चिकित्सकों ने हर्ष को मृत घोषित कर दिया।

Sikar Boy drowns in Kapadia Health Club Swimming Pool Surat

स्केटिंग में रह चुका था स्टेट चैंपियन
हर्ष पढ़ाई के साथ अन्य गतिविधियों में भी अव्वल था। वह स्केटिंग में स्टेट चैंपियन रह चुका था। स्केटिंग के अलावा उसे स्वीमिंग करना भी अच्छा लगता था। इसीलिए परिजनों ने उसे छह मई 2018 को क्लब ज्वाइन करवा दिया। वह सुबह अपने पिता के साथ क्लब में जाया करता था। बुधवार को उसकी मम्मी व छोटा भाई भी साथ चला गया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned