scriptSikar's farmer grew mangoes in winter, books are being put on trees | किसान ने सर्दियों में उगा दिए आम, पेड़ों पर लगे ही हो रहे बुक | Patrika News

किसान ने सर्दियों में उगा दिए आम, पेड़ों पर लगे ही हो रहे बुक

पूरण सिंह शेखावत
सीकर। कुछ करने का जज्बा हो तो बाधाएं भी रास्ता नहीं रोक सकती। ये साबित कर दिखाया है सीकर जिले के एक किसान ने। जिसने सदियों में भी आम का उत्पादन कर एक मिसाल कायम कर दी है।

सीकर

Updated: December 24, 2021 04:30:25 pm

पूरण सिंह शेखावत
सीकर। कुछ करने का जज्बा हो तो बाधाएं भी रास्ता नहीं रोक सकती। ये साबित कर दिखाया है सीकर जिले के एक किसान ने। जिसने सदियों में भी आम का उत्पादन कर एक मिसाल कायम कर दी है। ऐसे में फलों के राजा आम का स्वाद चखने के लिए अब लोगों को गर्मियों का इंतजार नहीं होगा। ये किसान लखीपुरा, पुरोहित का बास निवासी फूलचंद हैं। जो अद्र्ध सैनिक बल से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि एक पेड़ से साल में पचास किलो से ज्यादा आम उत्पादित किए जा सकेंगे। खास बात ये है कि फूलचंद ने आम का बगीचा इस प्रकार से तैयार किया गया है कि उसमें अन्य परम्परागत फसल भी बोई जा रही है। जिनकी सिंचाई के लिए प्रयुक्त पानी ही आम के पेड़ों को मिल रहा है। आम से लकदक पेडों की निराई गुड़ाई का काम करीब 79 साल के किसान नियमित रूप से कर रहे हैं।

पांच पौधों से की शुरूआत
जिले में सर्दी व गर्मी के तापमान में भारी अंतर होने की वजह से यहां आम के पौधे पनप नहीं पाते थे। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और हर साल नवाचार कर आम की गुठिलयों को उगाने का प्रयास करते रहे। इसके बाद उन्होने बगीचा लगाने की शुरूआत महज पांच पौधे लगाने से की। इसके लिए अनुकूल वातावरण और विशेषज्ञों की सलाह लेकर खाद का उपयोग किया और जब इन सभी पौधों से बेहतर उत्पादन मिलने लगा तो हौंसला बढ़ा और सेवानिवृत्ति के बाद उन्होने खुद के खेत में ग्राफ्टिंग के जरिए सात सौ से ज्यादा पौधे तैयार किए। जिनमें अल्फांसों, लंगड़ा, दशहरी, मलिका और बारह मासी किस्म के पौधे हैं। इन पौधों को ग्राफ्टिंग के बाद करीब 12 बीघा जमीन में लगाकर बगीचा तैयार किया है।

पेड़ों पर लगे ही बुक हो रहे आम
बकौल फूलचंद बिना रसायन पेड़ पर आम तैयार होने से लोग सीजन की शुरूआत से पहले ही बुकिंग करवानी शुरू कर देते हैं। आम की बुकिंग पेड़ों पर लगने से पहले ही हो रही है। इसके अलावा अब कई लोग केरी के लिए भी कच्चे आम की एडवांस बुकिंग करवा देते हैं। जिससे न केवल उन्हें अतिरिक्त आय होती है वहीं दूसरी पराम्परागत फसल होने से दोहरा लाभ भी हो जाता है।

सीकर के किसान ने सर्दियों में उगा दिए आम, पेड़ों पर लगे ही हो रहे बुक
सीकर के किसान ने सर्दियों में उगा दिए आम, पेड़ों पर लगे ही हो रहे बुक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.