बड़ी खबर: विधायक ने कांस्टेबल से की मारपीट, पुलिस ने पिता व भाई सहित किया गिरफ्तार

(including MLA Sikar Police arrested five people for assaulting constable) राजस्थान की सीकर पुलिस ने महाराष्ट्र के चिमुर विधायक कीर्ति कुमार उर्फ बंटी भांगडिय़ा को पिता व भाई सहित दो अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया है।

By: Sachin

Updated: 20 Feb 2021, 05:28 PM IST

सीकर. राजस्थान की सीकर पुलिस ने महाराष्ट्र के चिमुर विधायक कीर्ति कुमार उर्फ बंटी भांगडिय़ा को पिता व भाई सहित दो अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया है। पांचों पर नो एंट्री जोन में घुसकर पुलिस कांस्टेबल से मारपीट व महिला कांस्टेबल से अभद्रता करने का आरोप है। जिन्हें आईपीसी की धारा 151 में गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। पीडि़त कांस्टेबल गिरधारी लाल ने बताया कि वे महिला कांस्टेबल कमला के साथ सिल्वर जुबली रोड पर एसके कॉलेज के पास तैनात थे। इसी दौरान नो एंट्री में घुसी एक बस को रोककर उन्होंने उसका चालान काटा। इसी बीच बस से कुछ लोग उतरे और गाली गलौच करते हुए उनके साथ मारपीट करने लगे। खुद को विधायक बताते हुए जयपुर विधायक प्रताप सिंह खाचरियावास से शिकायत करने की धौंस भी दिखाई। महिला कांस्टेबल को भी भद्दी गालियां दी। जैसे तैसे उन्होंने एसके कॉलेज में घुसकर अपनी जान बचाई। घटना की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर विधायक सहित चार आरोपियों को हिरासत में लिया। जिनसे पूछताछ की जा रही है। सीओ सिटी वीरेंद्र शर्मा ने बताया कि एसके कॉलेज के पास यातायात पुलिसकर्मी तैनात थे। जिनके साथ झगड़ा होने की सूचना मिली थी। इस पर मौके पर पहुंचकर पांच लोगों को सीआरपीसी की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है। शर्मा ने बताया की गिरफ्तार लोग खुद को महाराष्ट्र के निवासी बता रहे हैं और नो एंट्री के संबंध में चालान काटने की बात से नाराज होकर इन्होंने यातायात पुलिसकर्मियों से मारपीट की। फिलहाल आरोपियों को गिरफ्तार कर मेडिकल करवाया जा रहा है। मामले में अनुसंधान जारी है।

सालासर से जा रहे थे जैसलमेर
जानकारी के अनुसार विधायक परिवार सहित राजस्थान आए थे। यहां सालासर बालाजी के दर्शनों के बाद वे सीकर होते हुए जैसलमेर जा रहे थे। इसी बीच उनकी बस सीकर में नो एंट्री क्षेत्र में घुस गई। जिसके बाद ये बवाल खड़ा हो गया।

पिता व भाई भी गिरफ्तार
पुलिस ने मामले में नागपुर जिले के धंतोली तहसील निवासी विधायक कीर्ति कुमार के साथ उनके पिता मितेश कुमार व भाई श्रीकांत को भी शांतिभंग में गिरफ्तार किया है। इनके अलावा पुलिस ने नागपुर के धंतोली निवासी अंकित पुत्र द्वारका दास तथा नागपुर जिले के यवतमाल निवासी सुशील कोठारी पुत्र शंकर लाल को गिरफ्तार किया है।

बस मोडऩे के बाद निकले
पीडि़त कांस्टेबल ने बताया कि बस चालक ने एकबारगी तो आसानी से अपनी गलती स्वीकार कर ली थी। चालान काटने के बाद बस भी वापस मोड़ दी। लेकिन, इसके बाद उसमें सवार लोग निकले और चालान काटने पर नाराजगी जताते हुए गाली गलौच व मारपीट करने लगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned