सरकारी भर्तियां: कमेटी ने दी छूट तो प्रदेश में फिर बेपटरी होगी 60 हजार भती

-ईडब्लूएस श्रेणी में आयु सीमा में छूट देने के लिए सरकार ने बनाई समिति
-कमेटी की हरी झंडी पर सभी भर्तियों से फिर से लिए जाएंगे आवेदन फार्म
-कल तक कमेटी देगी सरकार को रिपोर्ट
रीट, पटवार, ग्रामसेवक, विद्युत निगम सहित अन्य विभागों से जुड़ी भर्तियों का मामला

By: Ashish Joshi

Published: 25 Mar 2021, 10:42 AM IST

सीकर. ईडब्लूएस श्रेणी में आयु सीमा में छूट की राज्य सरकार की घोषणा के बाद रीट सहित अन्य सरकारी भर्तियों में नया पेंच फंस गया है। यदि कमेटी ने प्रक्रियाधीन भर्तियों में आवेदन का एक और मौका देने का प्रस्ताव माना जाता है तो प्रदेश में 60 हजार से अधिक भर्ती एक बार फिर से बेपटरी हो सकती है। हालांकि ईडब्लूएस श्रेणी के अभ्यर्थियों को जरूर राहत मिलेगी। पिछले दिनों मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ईडब्लूएस श्रेणी में अन्य वर्गो की तरह आयु व फीस की छूट देने की घोषणा की थी। इसके बाद मंगलवार को मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हुई बैठक में वर्तमान में जारी भर्तियों में इस छूट का लाभ देने के लिए कमेटी गठित करने के निर्देश दिए थे। यह कमेटी सरकार को शुक्रवार तक रिपोर्ट देगी। इसके बाद सरकार इसको लेकर कोई फैसला लेगी। सूत्रों की माने तो विद्युत निगम की भर्तियों में नए सिरे से आवेदन मांगे जाने का विचार भी सरकार कर रही है।
-----------------------
यह भर्ती होगी सीधे तौर पर प्रभावित
रीट भर्ती:
प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 25 अप्रेल महीने में रीट परीक्षा प्रस्तावित है। इसके अंकों के आधार पर शिक्षा विभाग की ओर से 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों के पदों पर भर्ती की जानी है। ऐसे में सरकार की नई घोषणा इस भर्ती पर लागू होती है तो आवेदन दुबारा भरने का भी मौका मिलेगा। ऐसे में भर्ती की परीक्षा तिथि सात से दस दिन आगे बढ़ सकती है। यदि कमेटी आवेदन नहीं देने का निर्णय लेती है तो परीक्षा समय पर होनी तय है।

------------------------
ग्रामसेवक भर्ती:
प्रदेश में इस महीने के आखिर तक ग्रामसेवक भर्ती की अभ्यर्थना जारी होने की संभावना थी। सरकार के नए निर्णय का असर इस भर्ती पर भी आने की पूरी संभावना है। ऐसे में इस भर्ती की विज्ञप्ति में और समय लग सकता है। प्रदेश के दस लाख से अधिक बेरोजगारों को इस भर्ती का इंतजार है।
---------------------------
पटवार भर्ती:
पिछले दो साल से पटवार भर्ती भी उलझी हुई है। दो बार परीक्षा की घोषणा होने के बाद भी परीक्षा अटक गई थी। ऐसे में यदि इस भर्ती में आवेदन और मांगे जाते है तो परीक्षा तिथि और बढ़ सकती है। इस भर्ती का भी प्रदेश के 12 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को इंतजार है।
------------------------------
ईडब्लूएस वाले अभ्यर्थी बोले, तैयारी के लिए भी मिले समय
ईडब्लूएस श्रेणी के अभ्यर्थी भी पिछले एक सप्ताह में तीन बार सरकार को मांग पत्र दे चुके है। अभ्यर्थियों का तर्क है कि सरकार को सभी प्रक्रियाधीन भर्तियों में नए सिरे से आवेदन लेने चाहिए। संगठन का दावा है कि इसका प्रदेश के तीन लाख से अधिक अभ्यर्थियों को फायदा मिलेगा। अभ्यर्थियों का कहना है कि सरकार को भर्ती में नए सिरे से शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को तैयारी के लिए भी समय देना होगा।
-------------------------
इनका कहना है
सरकार ईडब्लूएस श्रेणी के आवेदकों को शामिल करना चाहती है इससे निश्चित तौर पर बेरोजगारों को फायदा मिलेगा। लेकिन सरकार को प्रक्रियाधीन भर्तियों को ज्यादा आगे नहीं बढ़ाना होगा। इसका खामियाजा लगातार तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों को भुगतना पड़ता है।
उपेन यादव, अध्यक्ष, बेरोजगार एकीकृत महासंघ

Ashish Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned