हाजिरी से सोशल डिस्टेंस, संस्था प्रधानों को नोटिस जारी



सात दिन में नोटिस का जवाब नहीं देने पर होगी विभागीय कार्रवाई

By: Ajay

Published: 18 Jul 2021, 07:39 PM IST


सीकर.
प्रदेश के 291 सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को ऑनलाइन हाजिरी रास नहीं आ रही है। स्कूल शिक्षा परिषद की ओर से जारी जुलाई महीने के शुरूआती 13 दिनों की उपस्थिति जांची गई तो यह सच सामने आया है। इसको अब परिषद ने गंभीरता से लेते हुए संबंधित संस्था प्रधानों को नोटिस जारी कर दिए है। सात दिन में नोटिस का जवाब नहीं देने वाले संस्था प्रधानों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई होगी। परिषद के अतिरिक्त राज्य परियोजना निदेशक एमआर बगडिय़ा की ओ से जारी आदेश में बताया कि विभाग की ओर से 15 जनवरी 2020 से शिक्षकों की उपस्थिति ऑनलाइन की जा चुकी है। इसके बाद भी कई स्कूलों की ओर से इसमें लापरवाही बरती जा रही है। इसके बाद से प्रदेश के शिक्षकों को उपस्थिति व अवकाश सहित अन्य कार्य शाला दपर्ण पोर्टल के जरिए ही करने होते है।

सिरोही जिले में शत प्रतिशत उपस्थिति
प्रदेश में एकमात्र सिरोही जिला ऐसा है जहां शिक्षकों की ओर से शत प्रतिशत ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज की जा रही है। जबकि हर जिले के स्कूल नियमों की पालना नहीं करने वाली सूची में शामिल है। जबकि पिछली महीने की जांच रिपोर्ट में चार जिले ऐसे थे जहां शिक्षकों की ओर से शत प्रतिशत उपस्थिति दर्ज की जा रही थी।

गुरुजी बोले, नेटवर्क नहीं..कैसे दर्ज करें हाजिरी
इधर, शिक्षकों की अपनी पीड़ा है। शिक्षकों का कहना है कि स्कूल में नेटवर्क नहीं होने की वजह से दिक्कत आ रही है। कई बार तो ई-मित्र केन्द्रों पर उपस्थिति दर्ज कराना जाना पड़ रहा है।

कहां कितने स्कूलों में दर्ज नहीं हो रही ऑनलाइन उपस्थिति

अजमेर: 4
अलवर: 8
बांसवाड़ा: 23
बारां: 13
बाड़मेर: 18
भरतपुर: 8
भीलवाड़ा: 7
बीकानेर: 8
बूंदी: 10
चित्तौडगढ़: 16
चूरू: 5
दौसा: 5
धौलपुर: 8
डूंगरपुर: 8
श्रीगंगानगर: 5
हनुमानगढ़: 3
जयपुर: 10
जैसलमेर: 5
झालावाड़: 12
जालौर: 10
झुंझुनूं: 10
जोधपुर: 13
करौली: 2
कोटा: 6
नागौर: 13
पाली: 8
प्रतापगढ़: 8
राजसमंद: 4
सवाईमाधोपुर: 3
सीकर: 5
टोंक: 8
उदयपुर: 25

Ajay Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned