scriptsoldier who killed two terrorists received the President's award | पुलवामा में दो आतंकियों को ढेर करने वाले जवान को मिला राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार, गांव में दौड़ी खुशी | Patrika News

पुलवामा में दो आतंकियों को ढेर करने वाले जवान को मिला राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार, गांव में दौड़ी खुशी

राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना क्षेत्र के पुरानाबास निवासी सीआरपीएफ के 185 बटालियन वर्तमान 114 बटालियन के रेपिड एक्शन फोर्स के उपनिरीक्षक ओमप्रकाश ने जिले का गौरव बढ़ाया है।

सीकर

Published: July 29, 2022 03:54:36 pm

सीकर/नीमकाथाना. राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना क्षेत्र के पुरानाबास निवासी सीआरपीएफ (CRPF) के 185 बटालियन वर्तमान 114 बटालियन के रेपिड एक्शन फोर्स के उपनिरीक्षक ओमप्रकाश ने जिले का गौरव बढ़ाया है। ओमप्रकाश को बहादुरी के लिए राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार से नवाजा गया है। दिल्ली में सीआरपीएफ के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में सीआरपीएफ महानिदेशक कुलदीप सिंह ने उपनिरीक्षक ओमप्रकाश कुमार को वीरता मैडल पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इंस्पेक्टर ओमप्रकाश ने पत्रिका को बताया कि वे वीरता पुरस्कार का श्रेय अपने माता-पिता एवं उच्च अधिकारियों को देते हैं। उन्होंने कहा राष्ट्र रक्षा ही मेरा परम धैय है, चाहे जान भी चली जाए। पुरस्कार मिलने पर उनके पैतृक गांव पुरानाबास एवं नीमकाथाना क्षेत्र सहित पूरे समाज में खुशी की लहर हैं। लोगों ने उनको फोन पर बधाई देकर व गांव में मिठाई बांटकर खुशी जाहिर की।

पुलवामा में दो आतंकियों को ढेर करने वाले जवान को मिला राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार, गांव में दौड़ी खुशी
पुलवामा में दो आतंकियों को ढेर करने वाले जवान को मिला राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार, गांव में दौड़ी खुशी

मुड़भेड़ में दिया अदम्य साहस व वीरता का परिचय

जम्मू कश्मीर के अवंतीपुरा जिला पुलवामा में अक्टूबर 2019 में हुए आतंकवादियों के साथ मुड़भेड़ में अदम्य साहस तथा वीरता का परिचय देते हुए अपनी जान की परवाह ना करते हुए जैश-ए-मोहम्मद के दो खूंखार प्रमुख आतंकियों को ढेर कर दिया था। इस पूरे ऑपरेशन का नेतृत्व इंस्पेक्टर ओमप्रकाश कुम्हार ने किया था।

पहले भी चार बार हो चुके हैं सम्मानित

राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार की घोषणा तत्कालीन महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 15 अगस्त 2021 को स्वतंत्रता दिवस पर की थी। इससे पूर्व भी इंस्पेक्टर ओमप्रकाश सीआरपीएफ महानिदेशक से साहसिक व उल्लेखनीय सेवा कार्यों के लिए चार बार विभिन्न स्तरों पर सम्मानित हो चुके हैं।

गांव में खुशी का माहौल
जवान ओमप्रकाश की इस उपलब्धि पर गांव में खुशी का माहौल है। परिवार के अलावा रिश्तेदार भी ओमप्रकाश की इस उपलब्धि का जश्न मना रहे हैं। इस दौरान ओमप्रकाश के घर भी बधाई देने वालों का तांता लगा रहा।

The soldier who killed two terrorists received the President's Gallantry Award

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शेयर मार्केट के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला का निधन, 62 साल की उम्र में ली अंतिम सांसRajasthan: तीसरी कक्षा के दलित छात्र को निजी स्कूल के शिक्षक ने पानी का कंटेनर छूने को लेकर पीटा, मौत के बाद तनाव, इंटरनेट सेवा बंदMaharashtra: रायगढ़ के पूर्व विधायक विनायक मेटे की सड़क दुर्घटना में मौत, मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर हुआ भीषण हादसाJ-K: स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकियों का ग्रेनेड से हमला, कुलगाम में पुलिसकर्मी शहीदकैबिनेट विस्तार से पहले आज नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव से मुलाकात करेगी कांग्रेस!राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज 76वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को करेंगी संबोधितNashik News: कंबल में लेटाकर प्रेग्‍नेंट महिला को पहुंचाया गया हॉस्पिटल, दिल दहला देने वाला वीडियो हुआ वायरल14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़े
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.