दास्तां: जिसे कहती थी 'भाई' उसने ही बनाया हवस का शिकार, 'कामिनी' को आज भी डराती है वो काली रात

Rape With 12 Year old Girl : 12 साल की कामिनी ( Sikar 12 Year old Rape Victim Kamini ) ( काल्पनिक नाम )। बड़ी भाभी के भाई को काणा भाई कह कर बुलाती थी। अब तो मानों रिश्तों से विश्वास ही उठ गया है। ऐसा दर्द दिया कि पांच महीने से रात को सो भी नहीं पाती है।

By: Naveen

Published: 04 Dec 2019, 01:28 PM IST

सीकर.

rape With 12 Year old Girl : 12 साल की कामिनी ( Sikar 12 Year old Rape Victim Kamini ) ( काल्पनिक नाम )। बड़ी भाभी के भाई को काणा भाई कह कर बुलाती थी। अब तो मानों रिश्तों से विश्वास ही उठ गया है। ऐसा दर्द दिया कि पांच महीने से रात को सो भी नहीं पाती है। कई महीनों तक अस्पताल में इलाज कराने के बाद भी पागलों की तरह से बडबडाती रहती है। सिर में गहरी चोट से उबर नहीं सकी है। रात को डऱ के कारण सोते हुए उठ कर रोने लग जाती है। अब बेटों ने मां के साथ उसे जोधपुर भेज दिया है। पीडि़ता की मां ने पत्रिका को फोन पर बताया कि ऐसा मन करता है कि मेरी बच्ची की जिंदगी बर्बाद करने वाले को मैं खुद मार दूं। बेटी का रोजाना चेहरा देख कर गुस्सा आता है। सरकार को सख्त कदम उठाने चाहिए। उन्होंने कहा कि मेरे 6 लडक़े व 3 लड़कियां है।

दास्तां: जिसे कहती थी 'भाई' उसने ही बनाया हवस का शिकार, 'कामिनी' को आज भी डराती है वो काली रात

उद्योग नगर पुलिस ने आरोपी विजय उर्फ काणा को तो गिरफ्तार कर लिया। विजय के परिजनों ने बयान बदलने के लिए कई बार आकर धमकियां दी। रात को घर के बाहर आकर पत्थर फैंकते है। तब परेशान होकर बेटों ने मां और बहन को जोधपुर में रिश्तेदारों के पास भेज दिया। उसका कहना है कि कामिनी का इलाज चल रहा है। अभी दवाई चल रही है। उसके पेट व सिर में दर्द रहता है। सिर में गहरी चोट आई थी। उसने बताया कि राज्य सरकार की ओर से कोई मदद नहीं मिली।

दास्तां: जिसे कहती थी 'भाई' उसने ही बनाया हवस का शिकार, 'कामिनी' को आज भी डराती है वो काली रात

दुष्कर्म के बाद बच्ची का सिर दीवार पर मारा, बड़ा पत्थर सिर पर पटका

14 जून को आरोपी विजय उर्फ काणा घर पर आया। उसे उठा कर ले जाने लगा तो बच्ची ने उस पर पत्थर भी फैंके। उसे उठा कर रेलवे की पटरियों के पास आनंद नगर में एक खाली कचरे के प्लॉट में ले गया था। वहां पर दुष्कर्म किया। इसके बाद दीवार पर सिर मारा। पहचान छुपाने के लिए सिर पर पत्थर पटक दिया। मरा हुआ समझ कर आरोपी भाग गया। कुछ होश में आने के बाद हिम्मत कर लहुलुहान अवस्था में उठ कर बाहर निकली। पांच फीट की दीवार फांद कर आया। लोगों ने उसे देखकर अस्पताल पहुंचाया। बाद में परिजन भी अस्पताल में पहुंच गए। बेहोशी की हालत में काणा भाई ने किया बोलकर बडबडाती रही।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned