VIDEO. फेरीवाला 18 लाख रुपए के साथ गिरफ्तार

राजस्थान के सीकर जिले की फतेहपुर सदर थाना पुलिस ने एक फेरीवाले को 18 लाख रुपयों के साथ गिरफ्तार किया है। फतेहपुर के नवलगढ़ रोड निवासी सुरेश उर्फ जाट पुत्र मोहनलाल ने रास्ते पर पड़ा रुपयों से भरा बैग पार कर लिया था। जिसे पुलिस ने दूध बेचने वाले की मदद से पकड़ लिया।

By: Sachin

Updated: 05 Mar 2021, 10:35 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की फतेहपुर सदर थाना पुलिस ने एक फेरीवाले को 18 लाख रुपयों के साथ गिरफ्तार किया है। फतेहपुर के नवलगढ़ रोड निवासी सुरेश उर्फ जाट पुत्र मोहनलाल ने रास्ते पर पड़ा रुपयों से भरा बैग पार कर लिया था। जिसे पुलिस ने दूध बेचने वाले की मदद से पकड़ लिया। मामले में एएसपी देवेंद्र शर्मा ने प्रेसवार्ता कर घटना का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि 3 मार्च को फतेहपुर के किरडोली निवासी मोहसीन पुत्र लियाकत नेे सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें बताया था कि वह सीकर से बाइक पर हुंडई कंपनी का पेमेंट लेकर जा रहा था। इसी दौरान फतेहपुर में बेसवा रोड पर उसका रुपयों से भरा हुआ बैग गिर गया। जिसे कोई अज्ञात व्यक्ति उठा ले गया। इस पर पुलिस ने जांच शुरू करते हुए नजदीकी सीसीटीवी फुटेज खंगाले। जिसके आधार पर बैग उठाने वाला शख्स फतेहपुर निवासी सुरेश उर्फ जाट निकला। जो फेरी लगाकर कपड़े बेचने का काम करता था। पुष्टि होने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और उसके घर संदूक में छिपाकर रखे गए 18 लाख रुपए भी बरामद कर लिए।

दूधिये की मदद से पकड़ा गया आरोपी
आरोपी सुरेश उर्फ जाट एक दूधिये की मदद से पकड़ा गया। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद कोतवाल उदयसिंह यादव, एएसआई जयप्रकाश, कांस्टेबल जीवराज व राकेश ने मामले की जांच शुरू की थी। इस दौरान पुलिस ने घटनास्थल पर खलचूरी की दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले। जिसमें पुलिस को मोहसिन की बाइक के पीछे एक दूधिये की बाइक आती दिखी। इस पर पुलिस ने दूधिये सुनील पुत्र शिवकरण निवासी हिरणा की पहचान कर उससे घटना को लेकर जानकारी ली। इस पर उसने बताया कि उसने बाइक से बैग को गिरते हुए देखा था। जिसे एक फेरी वाले ने उठा लिया था। इस पर पुलिस उस फेरी वाले की तलाश में जुट गई।


रुपये देख मन में आई खोट, रहने लगा बेचैन
पुलिस के अनुसार रुपये मिलने के बाद फेरीवाले के मन में खोट आ गया। वह घटनास्थल के पास ही मिल गया था। लेकिन, उसने बैग को सड़क बनाने वाले मजदूरों द्वारा उठा ले जाने की बात कही। इस पर पुलिस का संदेह दूधिये पर भी गया। लेकिन, पुलिस ने फेरीवाले के घर के नजदीक भी जांच जारी रखी। इस बीच शातिर सुरेश ने रुपयों के बारे में पत्नी तक को भ्ीा नहीं बताया। लेकिन, वह बेचैन रहने लगा। इसी बीच मुखबिर से फेरीवाले के पास ही रुपये होने की पुष्टि हो गई। जिसके बाद पुलिस ने उसे दबोच लिया। उसने पुलिस को भी बताया कि इतने सारे रुपए देखकर मन में बेइमानी आ गई थी। इसलिए वह चुपचाप रुपए घर ले आया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned