'मेरी मौत के जिम्मेदार मम्मी को परेशान करने वाले हैं' सुसाइड नोट वायरल

दो दिनों से युवक का एक सुसाइड़ नोट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सुसाइड नोट में युवक ने मां की रक्षा नहीं कर पाने से आहत होना लिखा है।

By: Sachin

Published: 25 Aug 2020, 09:57 AM IST

सीकर. दो दिनों से युवक का एक सुसाइड़ नोट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सुसाइड नोट में युवक ने मां की रक्षा नहीं कर पाने से आहत होना लिखा है। युवक ने लिखा कि उसकी मां को पड़ोस के लोग परेशान कर रहे है। शिकायत करने पर भी पुलिस कोई कार्रवाई नही कर रही है। सुसाइड़ नोट वायरल होने का पता लगने पर सदर पुलिस गांव में पहुंची। सब कुछ ठीक पाए जाने पर पुलिस ने राहत की सांस ली। पीडि़त अरूण प्रताप सिंह ने बताया कि वह नाथावतपुरा गांव का रहने वाला है और जयपुर में काम करता है। पिछले कई दिनों से डिप्रेशन में चल रहा है। उसकी मां संतोष कंवर पत्नी गोविंद सिंह ने सदर थाने में 13 अगस्त को मारपीट किए जाने की रिपोर्ट दी थी। उन्होंने गांव में ही पड़ोस के लोगों पर घर में घुस कर मारपीट करने के आरोप लगाया। साथ ही प्लॉट हड़प किए जाने का भी आरोप लगाया।

पुलिस में 5 बार की शिकायत, कार्रवाई नहीं
अरुण प्रताप ने बताया कि वह जयपुर में काम करता है। मां घर पर ही अकेली रहती है। मां ने उसे फोन पर परेशान करने की बात कहीं। पीडि़त ने बताया कि 5 बार पुलिस को रिपोर्ट दी गई है। पुलिस ने भी कोई कार्रवाई नहीं की। परेशान होकर उसने सुसाइड़ नोट लिख दिया। व्हाटसएप स्टेटस पर उसने सुसाइड़ नोट लिख डाला। इससे काफी लोगों के पास सुसाइड़ नोट पहुंच गया। तब काफी लोगों ने अरूण को फोन किए। इसके बाद लोगों ने समझाइश की। पीडि़त युवक ने बताया कि पिता की पुलिस की गाड़ी से ही हादसे में हो गई थी। वह घर में अकेला ही है और मां भी गांव में अकेली रहती है। सदर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह ने बताया कि नाथावतपुरा गांव का मामला है। युवक गांव में नहीं रहता है। महिला का पड़ोस के लोगों से कोई विवाद चल रहा है। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची थी तब ऐसा कोई मामला गांव में नहीं मिला।

नोट में लिखा : मम्मी का ध्यान रखना
युवक ने नोट में लिखा कि आप सबसे मेरी हाथ जोड़ कर निवेदन है कि मैं अपनी जिंदगी छोड़ कर जा रहा हूं। मेरे पास बस आज का टाइम है। इसलिए मैं आप सबको सूचित करता हूं कि मेरी मौत का जिम्मेदार मेरी मम्मी को परेशान करने वाले है। मैंने थाने में 5 बार रिपोर्ट भी करवाई, लेकिन पुलिस प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा है। इसलिए मजबूरन मुझे यह कदम उठाना पड़ रहा है। नोट में कुछ लोगों के नाम भी लिखे गए है। जिन्हें मौत का जिम्मेदार बताया गया है। उसमें लिखा कि आज तक दोस्तों मैंने कुछ नहीं मांगा है। इस मामले पर ध्यान देना और मम्मी का ध्यान रखना।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned