10वीं व 12वीं बोर्ड परीक्षा का बदलेगा पैटर्न, ये दिशा निर्देश जारी

सीकर. सीबीएसई ने 10वीं- 12वीं परीक्षा के दौरान आउट ऑफ सिलेबस के प्रश्नों की समस्या से निजात पाने के लिए वैल्यू बेस्ड प्रश्न पत्रों को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

By: Sachin

Published: 20 Nov 2020, 11:12 AM IST

सीकर. सीबीएसई ने 10वीं- 12वीं परीक्षा के दौरान आउट ऑफ सिलेबस के प्रश्नों की समस्या से निजात पाने के लिए वैल्यू बेस्ड प्रश्न पत्रों को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। आगामी बोर्ड परीक्षा में कई तरह से प्रश्न पूछे जाएंगे। इस नए निर्देशों के मुताबिक प्रत्येक चैप्टर के बाद दिए प्रश्न के अलावा चैप्टर के अंदर से भी प्रश्न पूछे जाएंगे। ये प्रश्न चैप्टर में बने बॉक्स से रहेंगे, जिसके लिए बोर्ड ने सभी स्कूलों को निर्देश दे दिए हैं। बोर्डे के निर्देश के बाद अब स्कूलों को इस बारे में विद्यार्थियों को भी जानकारी देनी होगी। गौरतलब है कि कई सालों से कई विषयों के पेपर में सिलेबस से बाहर आने की अफवाहें आती रही है। इस कारण विद्यार्थियों के साथ-साथ अभिभावक भी गुमराह होते रहे हैं। इन सब स्थितियों से बचने के लिए बोर्ड ने इस बार परीक्षा शुरू होने के पहले सभी स्कूलों को दिशा- निर्देश जारी किए हैं। बोर्ड की मानें तो प्रश्न एनसीईआरटी पाठ्यक्रम से ही रहेंगे। पब्लिकेशन से किसी प्रकार के प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। इसके साथ ही हर प्रश्न के लिए इस बार विकल्प भी रहेगा। हर प्रश्न का आंसर देना अनिवार्य होगा और हर एक प्रश्न का विकल्प रहेगा।


वैल्यू बेस्ड प्रश्न होंगे

सीबीएसई के अनुसार 10वीं- 12वीं के सभी विषयों में वैल्यू बेस्ड प्रश्नों को रखा गया है। 12वीं के साइंस, आट्र्स और कॉमर्स स्ट्रीम में सभी विषय में वैल्यू बेस्ड प्रश्न पूछे जाएंगे। इन प्रश्नों के अंक 8 से 12 नंबर के होंगे। इसी प्रकार 10वीं बोर्ड के सभी विषयों में वैल्यू बेस्ड प्रश्न आठ से दस अंक के पूछे जाएंगे। परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज के मुताबिक बोर्ड परीक्षा में कोई प्रश्न सिलेबस के बाहर का नहीं होता है। सावधानी के साथ ही प्रश्न पत्र तैयार किए जाते हैं। चैप्टर के अंदर या बाहर कहीं से भी क्वेश्चन पूछे जा सकते हैं। ऐसे में स्टूडेंट्स को अपनी पूरी तैयारी करनी चाहिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned