बादलों ने ढका सूरज, सर्द हवाओं ने ढहाया सितम

शेखावाटी में सर्दी का सितम लगातार बढ़ता जा रहा है। बुधवार को भी जहां अंचल में तापमान में हल्की गिरावट दर्ज हुई, वहीं सर्द-नम हवाओं ने सुबह से लोगों को कंपा रखा है।

By: Sachin

Published: 16 Dec 2020, 10:13 AM IST

सीकर. शेखावाटी में सर्दी का सितम लगातार बढ़ता जा रहा है। बुधवार को भी जहां अंचल में तापमान में हल्की गिरावट दर्ज हुई, वहीं सर्द-नम हवाओं ने सुबह से लोगों को कंपा रखा है। बादलों में छुपकर लुकाछिपी खेल रहे सूरज की राहत भी ना बराबर है। सुबह साढ़े नौ बजे तक तो सूरज बादलों की ओट में ही छिपा रहा। ऐसे में सर्दी का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा। लोग देर तक रजाई में दुबकने को मजबूर दिखे तो बाहर भी जहां तहां अलाव व हीटर के जरिये सर्दी से बचने की कोशिश में जुटे हैं। इससे पहले आज भी सुबह की शुरुआत कोहरे के साथ हुई। जिसमें कई ग्रामीण इलाकों में तो दृश्यता बेहद कम रही। आलम ये रहा कि 50 मीटर पर भी देखना मुश्किल रहा। हाईवे पर वाहनों की रफ्तार रुक गई। कई वाहन चालक तो रास्ते में ही रुककर धुंध छंटने का इंतजार करने लगे। ओस की बूंदों से फसलें भी नम रही। फतेहपुर के कृषि अनुसंधान केंद्र में न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री दर्ज हुआ। जो मंगलवार के मुकाबले .08 डिग्री कम रहा।


तीन दिन सताएगी शीतलहर, बने मावठ के आसार
अंचल में कड़ाके की सर्दी के बीच मौसम विभाग भी डरा रहा है। मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन दिन तक शेखावाटी के तीनों जिलों में दिन और रात में शीतलहर चलेगी। किसानों की मानें तो हवाओं का रुख बदलने से मावठ के आसार बन गए हैं। मौसम विज्ञानी ओमप्रकाश कालश ने बताया कि गर्म प्रदेशों से आ रही दक्षिण पूर्वी हवाएं उत्तर की ओर बह रही है। ये हवाएं हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी के बाद आने वाली उत्तरी हवाओं से टकरा रही है। जिससे शेखावाटी क्षेत्र में बादल बन रहे हैं। यह मावठ का संकेत है। जो फसलों के लिए फायदेमंद रहेगा। जबकि इससे सर्दी में ओर बढ़ोत्तरी होगी। मौसम के जानकारों के अनुसार मौसम साफ होने के साथ ही तापमान में कमी आएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned