पेट में कई माह से पल रहा था पड़ोसी का बच्चा और इस लडक़ी को पता ही नहीं चला

vishwanath saini

Publish: Oct, 13 2017 08:00:50 (IST) | Updated: Oct, 14 2017 05:28:40 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
पेट में कई माह से पल रहा था पड़ोसी का बच्चा और इस लडक़ी को पता ही नहीं चला

ऐसा अजीब मामला राजस्थान के सीकर जिले के नेछवा थाने इलाके में सामने आया है। पत्नी गर्भवती होने के बाद खालिद ने पड़ोसी की नाबालिग लडक़ी के साथ रेप किया।

सीकर. पेट में बच्चा पल रहा हो और मां को भनक तक नहीं लगे। भला ऐसा भी संभव है क्या? यहीं नहीं बल्कि बच्चा पैदा भी हो जाए और अब कोई ये भी कोई नहीं जानता हो कि पैदा होने के बाद बच्चा गया कहां?। ऐसा अजीब मामला राजस्थान के सीकर जिले के नेछवा थाने इलाके में सामने आया है।

जानिए क्या है पूरा मामला
-नेछवा थाना इलाके के गांव अलखपुरा बोगन में खालिद की पत्नी गर्भवती हो गई थी।
-पत्नी गर्भवती होने के बाद खालिद ने पड़ोसी की नाबालिग लडक़ी को घर पर काम के लिए बुला लिया।
-इस दौरान आरोपित खालिद ने लडक़ी के साथ रेप किया। पीडि़ता के पिता ने अक्टूूबर में रिपोर्ट दर्ज करवाई।
-रिपोर्ट दर्ज होने के बाद मामला सामने आया और पता चला कि खालिद ने उसके साथ कई माह तक देह शोषण किया।
-इससे नाबालिग गर्भवती हो गई। उसके पेट में दर्द होने पर उसने परिजनों को जानकारी दी।
-फिर बालिका को सीकर के निजी अस्पताल में लाया गया। यहां पर उसने ऑपरेशन से बच्चा जन्मा।
-इसके बाद से नाबालिग का बच्चा कहां गया है। ये कोई नहीं जानता।
-पुलिस जांच में यह बात सामने आ रही है कि बच्चा जन्म के बाद कहीं फैंक दिया गया।

पीडि़ता ने दिया ये जवाब
...मेरे साथ खालिद ने गलत काम किया। पेट में दर्द होने पर मेरे माता-पिता और एक नर्स को साथ लेकर वह उसे सीकर अस्पताल में ले गया। मुझे नहीं पता था कि मेरे पेट में बच्चा था। मुझे तो सोनोग्राफी करवाने के लिए कहा गया था। बाद में ऑपरेशन कर दिया गया।

एएसपी को बताई पीड़ा
शुक्रवार को पीडि़ता ने परिवार के साथ आकर एएसपी डॉ. तेजपाल सिंह को अपनी पीड़ा बताई। इस दौरान पीडि़ता के पिता ने भी बच्चे के बारे में किसी तरह की जानकारी होने से इनकार किया है। एएसपी ने मामले में प्रत्येक बिंदु पर गहराई से जांच का आश्वासन दिया है।

बच्चे को तलाश रही पुलिस
पुलिस ने लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र में आसपास के लोगों से बात की, लेकिन किसी ने भी बच्चे को देखे जाने की बात पुलिस को नहीं बताई है। वहीं पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार आरोपित खालिद को रिमांड पूरा होने पर शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

पुलिस पर चार दिन तक मामले दबाने का आरोप
पीडि़ता व उसके पिता की ओर से एएसपी को दिए गए परिवाद में बताया गया है कि मामले की एफआईआर को पुलिस ने चार दिन तक दर्ज नहीं किया। पुलिस ने इस मामले में राजीनामा करवाने का प्रयास किया।

आरोपित ले गया बच्चा
पीडि़ता के पिता का कहना है कि उसने बच्चा नहीं देखा। बच्चा हुआ है तो आरोपित खालिद ही उसे वहां से ले गया। पुलिस अब उसे बच्चे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार करना चाह रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned