scriptToday the government of the villages will have to face the challenges | पिछली बैठक के दावे झूठे, गांवों की सरकार का 7 महीेने बाद आज होगा चुनौतियों से सामना | Patrika News

पिछली बैठक के दावे झूठे, गांवों की सरकार का 7 महीेने बाद आज होगा चुनौतियों से सामना

जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक में कई मुद्दों पर हंगामा होने के आसार विपक्ष ने सत्ता पक्ष को घेरने की बनाई रणनीति

सीकर

Published: May 11, 2022 11:35:00 am

सीकर. गांवों की सरकार का सात महीने बाद बुधवार को चुनौतियों से सामना होगा। जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक बुधवार को सुबह सवा ग्यारह बजे जिला प्रमुख गायत्री कंवर की मौजूदगी में होगी। सत्ता पक्ष को घेरने के लिए इस बार विपक्ष के सदस्यों ने और आक्रामक रणनीति तैयार की है। बैठक में पानी, बिजली, सड़क व स्वास्थ्य सहित अन्य मुद्दों पर हंगामा होने के आसार है। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश कुमार ने बताया कि बैठक में सबसे पहले पिछली बैठक की कार्यवाही का अनुमोदन होगा। इसके बाद मनरेगा के वार्षिक प्लान, एसएफसी के वार्षिक प्लान का अनुमोदन होगा। वहीं चिकित्सा, शिक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, कृषि, महिला एवं बाल विकास, विद्युत निगम, सार्वजनिक निर्माण विभाग, पेयजल व निजी आय सहित अन्य सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी। इधर, कई सदस्यों ने आरोप लगाया कि संबंधित विभागों ने पिछली बैठक में जो मुद्दे उठाए थे उनमें से ज्यादातर मामलों का अभी तक समाधान नहीं हुआ है।

पिछली बैठक के दावे झूठे, गांवों की सरकार का 7 महीेने बाद आज होगा चुनौतियों से सामना
पिछली बैठक के दावे झूठे, गांवों की सरकार का 7 महीेने बाद आज होगा चुनौतियों से सामना

इन मुद्दों पर हंगामा होने के आसार

पेयजल: सूखे हलक कैसे होंगे तर

श्रीमाधोपुर, नीमकाथाना, खंडेला व दांतारामगढ़ इलाके के सदस्य पेयजल के मुद्दे पर अधिकारियों को घेरने की तैयारी में है। सदस्यों का कहना है कि पिछली बैठक में ट्यूबवैलों के कनेक्शन का दावा किया गया। लेकिन अभी भी जिले में 30 से अधिक ट्यूबवैलों के कनेक्शन अटके हुए है। वहीं टैंकर सप्लाई भी पर्याप्त नहीं होने से नाराजगी है।

बिजली: कटौती से कब मिलेगी राहत

अघोषित बिजली कटौती का खेल जिलेभर में अभी भी जारी है। बिजली कटौती की वजह से पेयजल सप्लाई भी प्रभावित हो रही है। इस मामले में सदस्यों का कहना है निगम को सभी क्षेत्रों में समान रुप से कटौती करनी चाहिए। वहीं कृषि उपभोक्ताओं के अटके कृषि कनेक्शनों का मामला भी गूंजने की संभावना है।

शिक्षा: माधव स्कूल के मर्ज करने का विरोध

माधव स्कूल को मर्ज करने के मामले को लेकर जिलेभर में विरोध बढ़ता जा रहा है। इस मामले में सदस्यों ने अधिकारियों को घेरने की रणनीति बनाई है। इसके अलावा चिकित्सा, महिला एवं बाल विकास, कृषि सहित अन्य विभागों के मुद्दों की जानकारी भी सदस्यों की ओर से जुटाई गई है।

सात महीने पहले दावे, जमीनी हकीकत में आया झूुठ सामने

केस एक: सरकारी अस्पतालों में नहीं ठहर रहे चिकित्सक

जिला परिषद की पिछली साधारण सभा की बैठक में चिकित्सकों के रात के समय सरकारी आवास में नहीं ठहरने का मामला गूंजा था। इसके अलावा कई सदस्यों ने दीवारों पर चिकित्सक सहित अन्य स्टाफ के मोबाइल नंबर अंकित कराने का मामला उठाया था। लेकिन अभी भी ज्यादातर राजकीय अस्पतालों में चिकित्सक रात को नहीं ठहर रहे है।
केस दो: दिल्ली जाने वालों को कब मिलेगी राहत

नीमकाथाना-दिल्ली मार्ग, फतेहपुर रोड सहित 11 सड़कों का मामला पिछली बैठक में काफी गूंजा था। इस दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने निविदा जारी कर जल्द सड़क बनाने का आश्वासन दिया था। लेकिन टूटी सड़कों के मामले में लोगों को अभी तक राहत नहीं मिली है।
केस तीन: मर्ज स्कूलों के भवन पंचायत को देने

समानीकरण की वजह से बंद स्कूलों के मामले को भी सदस्यों ने काफी प्रमुखता से उठाया था। इस दौरान सदस्यों ने मांग रखी कि इन स्कूलों के भवनों के उपयोग के अधिकार ग्राम पंचायतों को देने की मांग की गई। इस मामले में भी आश्वासन दिया गया। लेकिन अभी तक पंचायतों को भवन नहीं मिलने से बंद स्कूलों के भवन जर्जर हो रहे है।
जिला परिषद बोर्ड हर मोर्चे पर फेल: कांग्रेस

जिला परिषद गांव-ढाणियों की जनता को राहत देने में पूरी तरह विफल है। बोर्ड बैठक भी भाजपा समय पर नहीं करवा पा रही है। राज्य सरकार की ओर से समय पर बजट दिया गया। इसके बाद भी गांवों की सरकार की कमजोर मॉनटरिंग की वजह से लोग परेशान है।
सरोज झीगर, कांग्रेस सदस्य
एसके अस्पताल खुद बीमार: भाजपा

राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल है। सीकर का एसके अस्पताल खुद बीमार है। सरकार को एसके अस्पताल की सर्जरी करने की आवश्यकता है। मेडिकल कॉलेज होने के बाद भी लोगों को मजबूरी में जांच कराने के लिए जयपुर जाना पड़ रहा है। सोनोग्राफी भी समय पर नहीं हो पा रही है। टूटी सड़कों से लोग परेशान है। इन मुद्दों पर राज्य सरकार को घेरा जाएगा।
ताराचंद धायल, उप जिला प्रमुख

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.