अब इस पूर्व मंत्री ने कहा कि वसुंधरा राजे ही होगी अगली सीएम

भाजपा में प्रदेश नेतृत्व को लेकर चल रहे घमासान के बीच पूर्व मंत्री कालीचरण सराफ ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समर्थन में ताल ठोक दी है।

By: Sachin

Updated: 17 Feb 2021, 10:32 PM IST

सीकर/फतेहपुर. भाजपा में प्रदेश नेतृत्व को लेकर चल रहे घमासान के बीच पूर्व मंत्री कालीचरण सराफ ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समर्थन में ताल ठोक दी है। उन्होंने कहा कि वंसुधरा राजे सर्वमान्य नेता है और वो ही राजस्थान की अगली मुख्यमंत्री होगी। कालीचरण सराफ बुधवार को कुलदेवी मंदिर में धोक लगाने के लिए फतेहपुर आए थे। मीडिया से बातचीत करते हुए सराफ ने कहा कि हमारे यहां नेतृत्व को लेकर कोई झगड़ा नही होता है। हमारे यहां सभी एक मुखी होकर चलते है। सराफ ने कहा वसुन्धरा हमारे सर्वमान्य नेता थी, है और रहेगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान में अगला विधानसभा चुनाव भाजपा उन्हीं के नेतृत्व में लड़ेगी और प्रदेश की भावी मुख्यमंत्री भी राजे ही बनेगी।

पेट्रोल व डीजल की दरों के लिए वैट जिम्मेदार
पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भी कालीचरण सराफ ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह हमारा दुर्भाग्य है कि राजस्थान में पूरे देश में सबसे ज्यादा वैट है। जिसके चलते पेट्रोल की कीमतें राज्य में अन्य राज्यों से ज्यादा है। कहा, कि राज्य सरकार को वैट कम करना चाहिए। ताकि आमजन को राहत मिल सके।

किसानों को गुमराह कर रही सरकार
किसान आंदोलन को लेकर सराफ ने कहा कि किसानों को आन्दोलन खत्म करना चाहिए। उन्हें कांग्रेस गुमराह करने का काम कर रही है। इस दौरान रमेश भोजक ने बिदंल कुलदेवी मंदिर में नगर अराध्य देव लक्ष्मीनाथ भगवान के मंदिर में सराफ को पूजा अर्चना करवाई।

 

किसान पंचायत के लिए विधायक से मिले किसान

फतेहपुर. संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वावधान में 23 को सीकर कृषि उपज मण्डी में होने वाली किसान पंचायत को लेकर पदाधिकारियों व किसानों ने विधायक हाकम अली खां से वार्ता की। संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारियों ने विधायक को किसान पंचायत में शामिल होने का न्यौता दिया। सरंक्षक गणेश बेरवाल ने बताया कि किसान पंचायत को किसान नेता राकेश टिकैत संबोधित करेंगे। सभा में ज्यादा से ज्यादा किसान पहुंचे इसलिए गांव गांव जनसंपर्क किया जा रहा है। जयंत खीचड़ ने बताया कि बुधवार को दादिया, बलारां व फतेहपुर क्षेत्र के कई गांवों में संकर्प किया। उन्होंने कहा कि यह तीनों कानून किसानों के लिए सही नहीं है। इन कानूनों से किसान बर्बाद हो जायेगा। इन कानूनों की वापसी के लिए सीकर में किसान आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान विधायक हाकम अली खां ने किसान महापंचायत में शामिल होने का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि इसके लिए 90 दिन से किसान आंदोलनरत है। जनसंपर्क के दौरान गणेश बेरवाल, जंयत खीचड़, बनवारी चौधरी, रामनिरंजन, रेखाराम डूडी, हरलाल झूरिया सहित कई लोग मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned